जम्मू में आईपीएस बसंत कुमार ने डीजीपी दिलबाग सिंह के खिलाफ दर्ज कराई शिकायत, अनहोनी की आशंका जताई

वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी बसंत कुमार रथ ने गुरुवार को जम्मू-कश्मीर के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) दिलबाग सिंह के खिलाफ लिखित शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस को की गई शिकायत में आरोप लगाया गया है कि शीर्ष पुलिस अधिकारी उनकी सुरक्षा, प्रतिष्ठा, जीवन और स्वतंत्रता के लिए खतरा है। बसंत कुमार रथ वर्तमान में जम्मू में  होम गार्ड के आईजीपी के रूप में तैनात हैं। जम्मू के गांधी नगर पुलिस स्टेशन के स्टेशन हाउस ऑफिसर को दी गई लिखित शिकायत में आईपीएस बसंत कुमार ने कहा कि अगर उनके साथ कोई अनहोनी होती है तो वे उनकी शिकायत पर ध्यान दें।

शिकायत की कॉपी आउटलुक के पास मिलने पर बसंत कुमार रथ से संपर्क कर प्रतिक्रिया लेने की कोशिश की गई लेकिन उन्होंने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी।

आईपीएस ने अपने साथ अनहोनी होने की आशंका जताई 

बसंत कुमार ने अपनी शिकायत में कहा, “मेरा जीवन और स्वतंत्रता के बारे में मेरी आशंका को ध्यान में रखते निवेदन है कि आईपीएस बैच 1987 के दिलबाग सिंह की कुछ गतिविधियाँ संदेहास्पद है। वो वर्तमान में डीजीपी हैं। मैं आपको अपनी सुरक्षा और प्रतिष्ठा के बारे में अपनी वास्तविक आशंकाओं को लेकर ध्यान देने के लिए लिख रहा हूं। मैं ये शिकायत अपनी व्यक्तिगत क्षमता में या एक सिविल अधिकारी के रूप में या एक पुलिसकर्मी के रूप में नहीं कर रहा हूं। यह शिकायत मैं इस देश के एक निजी नागरिक के रूप में कर रहा हूं।

एफआईआर दर्ज ना करें लेकिन शिकायत को पुलिस स्टेशन में रखें: आईपीएस

पत्र में वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी बसंत कुमार ने कहा, “मैं आपको उपरोक्त व्यक्ति (दिलबाग सिंह) के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने के लिए नहीं कह रहा हूं। मैं आपसे केवल इस पत्र को अपने थाने में दैनिक डायरी का एक हिस्सा बनाने के लिए कह रहा हूँ। यदि मेरे साथ कुछ बुरा होता है, तो आपको पता होना चाहिए कि आपको किसका नंबर डायल करना चाहिए। मैं आपसे इस पत्र को स्वीकार करने की अपेक्षा करता हूं। आप मुझे अपने व्हाट्सएप पर एक स्क्रीनशॉट भेज सकते हैं।”

ट्विटर पर शुरु हुआ था विवाद

दिलबाग सिंह के नाम से पिछले दिनों ट्विटर पर ट्वीट किए गए पोस्ट के बाद दोनों वरिष्ठ अधिकारियों के बीच 12 जून विवाद शुरू हो गया। दरअसल, यूजर ने पिछले कुछ वर्षों से जम्मू-कश्मीर के जरूरतमंद छात्रों को मुफ्त किताबें वितरित करने की बसंत कुमार रथ की पहल पर एक ट्वीट पोस्ट किया था।जिस पर बसंत कुमार ने व्यंगात्मक टिप्पणी करते हुए लिखा,“हाय दिलबाग सिंह। क्या मैं आपको दिल्लू कह सकता हूँ? क्या आप डेंटल कॉलेज के पास सरोर में 50 नहरों के मालिक हैं? क्या ये आपके नाम पर पंजीकृत है?” जिस पर प्रतिक्रिया देते हुए दिलबाग सिंह ने एक वरिष्ठ पत्रकार द्वारा संचालित ‘कश्मीर फर्स्टपोस्ट’ नाम के व्हाट्सएप ग्रुप में कहा कि इस इस आईपीएस अधिकारी पर शर्म आती है। मैं चुनौती देता हूं कि वह मेरे नाम या मेरे परिवार या मेरी ओर से किसी और के नाम पर एक इंच जमीन या संपत्ति या किसी व्यवसाय के लिए एक पैसा साबित करे। साथ ही दिलबाग सिंह ने लिखा कि उसे टास्क पर ले चलो।

इससे पहले भी उन्होंने अन्य आईपीएस के बेटे के खिलाफ की थी शिकायत

1972 में ओडिशा के एक गाँव में जन्मे बसंत कुमार रथ ने दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में समाजशास्त्र से पढ़ाई की है। 2000-कैडर बैच के वो आईपीएस अधिकारी है। यह बसंत कुमार का पहला विवाद नहीं है। इससे पहले 2017 में आईजीपी, यातायात के रूप में नियुक्ति होने के बाद वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी के बेटे के खिलाफ शिकायत लिखी थी और इसे सोशल मीडिया पर पोस्ट किया था। उन्होंने लिखा था, “दोस्तों, मैंने आज एक ऑडी कार (CH01 BK 7900) जब्त की है। जिसका ड्राइवर एक युवा है। उनके पिता जम्मू-कश्मीर में एक आईपीएस अधिकारी हैं।”