अमरनाथ यात्रा के दौरान रेलवे का चलेगा ‘ऑपरेशन थंडर’, ई-टिकटिंग की कालाबाजारी पर रहेगी नजर

एक जुलाई से शुरू हो रही अमरनाथ यात्रा के दौरान ट्रेनों में आरक्षित सीटों के लिए मारामारी रहेगी। इस दौरान ई-टिकटिंग का अवैध कारोबार करने वाले गिरोह सक्रिय हो जाते हैं। ऐसे में रेलवे का देशव्यापी अभियान ‘ऑपरेशन थंडर’ काफी कारगर साबित हो सकता है। यात्रा के दौरान ई-टिकटिंग के एजेंटों पर आरपीएफ की विशेष नजर रहेगी।

हाल ही में जम्मू में दो बड़े ई-टिकट फर्जीवाडे़ के मामले सामने आए हैं। इन गिरोहों को आरपीएफ की टीम ने रंगेहाथ दबोचा है। इसमें हजारों की नकदी भी बरामद की है। अमरनाथ यात्रा के दौरान आरपीएफ की टीम ऐसे एजेंटों पर विशेष नजर रखेगी। ई-टिकटिंग का अवैध कारोबार करने वाले एजेंट यात्रियों की मजबूरी का फायदा उठाकर उन्हें लूटते हैं।

आरपीएफ की टीम ने पुख्ता सूचना के आधार पर अवैध टिकटिंग का कारोबार करने वालों पर कार्रवाई की है। वहीं आरपीएफ जम्मू में तैनात इंस्पेक्टर मुंशी राम ने कहा कि हमारी कार्रवाई लगातार जारी है। ई-टिकट फर्जीवाडे़ पर विशेष नजर रहेगी।

यह हैं मामले 
-28 मई को आरपीएफ की टीम ने ई-टिकटिंग फर्जीवाडे़ के मामले में एक को गिरफ्तार किया। आरोपी अपनी यूजर आईडी से आरक्षित टिकट बुक करता था फिर उसे महंगे दाम पर यात्रियों को बेचता था। उससे कुछ ई-टिकट बरामद हुए थे।
-14 जून को आरपीएफ की टीम ने पलौड़ा इलाके में एक एजेंट को पकड़ा। आरोपी विभिन्न यूजर आईडी से ई-टिकट बुक करता था। इसके बाद वह यात्रियों को दोगुने दाम पर बेचता था। आरपीएफ की टीम ने आरोपी से टिकट और नकदी बरामद की थी।