कठुआ कांड में बरी विशाल बोला- क्राइम ब्रांच ने यातना देकर कहा बच्ची से दुष्कर्म और हत्या कबूल कर लो

अदालत के फैसले के बाद बरी होकर लगभग एक साल बाद जेल से बाहर आए मामले के मुख्य आरोपी विशाल जंगोत्रा के अनुसार जम्मू-कश्मीर की क्राइम ब्रांच ने उससे दुष्कर्म और हत्या कबुलवाने के लिए टार्चर किया था। मारपीट के साथ-साथ उसे यातनाएं दी गयीं। बकौल विशाल उसने मेरठ में बीएससी एजी के पेपर दिये थे और गिरफ्तारी के समय उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले के मीरांपुर में मौजूद था। घर पर क्राइम ब्रांच पहुंची और पीटना शुरू कर दिया।

मारपीट करते हुए मीरांपुर थाने ले गये और वहां से एक गाड़ी में डालकर कठुआ लाये। रास्ते में भी पीटा गया और कठुआ में भी रात भर रखकर यातनाएं दी गयी। क्राइम ब्रांच ने पूरे परिवार को बर्बाद करने की धमकी दी और कहा बच्ची से दुष्कर्म और हत्या कबूल कर लो। क्राइम ब्रांच ने यातना देकर कहा कि स्वीकार करो कि तुमने मेरठ में पेपर नहीं दिये, पेपर किसी और ने दिये थे।

विशाल को ही क्यों फंसाया गया, इसके पीछे विशाल का कहना है कि क्राइम ब्रांच पूरे परिवार को ही तबाह करना चाहती थी। मेरे भाई को भी फंसाने की साजिश थी। बरी होने के बाद विशाल अब अपनी पढ़ाई पूरी करने के लिए मेरठ लौटने की तैयारी कर रहा है।