अमरनाथ यात्रा की तैयारियां शुरू, ये है यात्रा 2019 के लिए पंजीकरण प्रक्रिया

श्री बाबा अमरनाथ यात्रा शुरू होने में तीन महीने शेष है, लेकिन इसके लिए तैयारियां तेज हो गई हैं। अनंतनाग जिले के डिप्टी कमिश्नर खालिद जहांगीर ने उच्च स्तरीय बैठक में यात्रा प्रबंधों की समीक्षा की।पहलगाम डेवलपमेंट अथारिटी के सीईओ ने बताया कि चंदनबाड़ी से पवित्र गुफा तक 32 किलोमीटर ट्रैक पर बर्फ हटाने के लिए टेंडर जारी कर दिए गए हैं।

अथॉरिटी यह सुनिश्चित बनाएगी कि पूरे ट्रैक से बर्फ हटाकर इसे समय पर खोला जाए। 23 प्री-फैब्रिकेटेड हट की मरम्मत, चंदनबाड़ी, शेषनाग, एमजी टॉप, पंचतरणी और गुफा के पास बने 43 पक्के हट भी समय पर ठीक हो जाएं। यही नहीं 10 लोहे के पुल और खतरनाक रास्ते पर 15,520 मीटर लंबी स्टील रेलिंग भी लगा दी जाए। पहलगाम डेवलपमेंट अथारिटी ही पूरे क्षेत्र में सफाई व्यवस्था करेगी। इसके अलावा पेयजल सप्लाई, सफाई, संचार, अशुमुगाम से पहलगाम के बीच सड़क की मरम्मत, पहलगाम से चंदनबाड़ी तक सड़क की मरम्मत, आपदा प्रबंधन इकाइयों का गठन, चंदनबाड़ी में पंजीकरण केंद्र स्थापित करना, नूनवन से पोषपथरी तक मेडिकल एड सेंटर खोलना, जीवन रक्षक दवाइयां, ऑक्सीजन सिलेंडर और जरूरी उपकरण भी उपलब्ध करवाने पर चर्चा की।

श्री अमरनाथ यात्रा 2019 के लिए पंजीकरण प्रक्रिया

भारत भर में बैंकों की नामित शाखाऍ के माध्यम से श्री अमरनाथ यात्रा 2019 पंजीकरण के लिए कृपया नीचे वर्णित चरण दर चरण प्रक्रिया का पालन करें:

पंजीकरण और यात्रा परमिट सबसे पहले आने वाले को सबसे पहले के आधार पर किया जाएगा।

यात्रियों के पंजीकरण की प्रक्रिया नामित दिनांक से बैंकों की नामित शाखाओं से शुरू किया है।

एक यात्रा परमिट केवल एक यात्री पंजीकरण के लिए मान्य होगा।

प्रत्येक पंजीकरण शाखा प्रति दिन/ प्रति मार्ग कोटा एक निश्चित आवंटित करेगा। पंजीकरण शाखा सुनिश्चित करेगा कि यात्रियों की संख्या आवंटित से अधिक नहीं।

कोई भी 13 वर्ष उम्र से कम या 75 वर्ष से ऊपर और छह सप्ताह के गर्भ से अधिक कोई औरत यात्रा के लिए पंजीकृत नहीं करेगा।

हर यात्री को आवेदन पत्र और अनिवार्य स्वास्थ्य प्रमाणपत्र यात्रा परमिट प्राप्त करने के लिए प्रस्तुत करना होगा। कारी मौजूद थे।