दरबार मूव का आदेश जारी, 26 से जम्मू में सचिवालय बंद

राज्य की शीतकालीन राजधानी जम्मू में 26 अप्रैल से बंद हो रहा राज्य सचिवालय श्रीनगर में छह मई से काम करना शुरू कर देगा। बुधवार को राज्य सरकार ने दरबार मूव का आदेश जारी कर दिया। राज्य सचिवालय में दरबार मूव की तैयारियों में तेजी के चलते सरकारी विभागों को अपना कामकाज जल्द निपटाने के निर्देश मिल गए हैं। विभागों की एडवांस पार्टियां 18 अप्रैल से श्रीनगर का रुख कर लेंगी।

प्रशासनिक सचिवों ने अपने विभागों को लंबित फाइलों को निपटाने के लिए हिदायतें दे दी हैं। राज्य में चुनाव की प्रक्रिया के चलते वैसे भी सरकारी कामकाज की रफ्तार कम हो गई है। इस समय चुनाव की जिम्मेदारी संभालने वाले विभागों में युद्ध स्तर पर कामकाज जारी है। वीरवार को मतदान के पहले चरण में जम्मू-पुंछ और बारामुला सीटों के लिए मतदान होना है।

अप्रैल में सचिवालय कर्मियों को दो वेतन मिलेंगे। मार्च के वेतन के साथ 22 अप्रैल को कर्मचारियों को एडवांस में वेतन मिल जाएगा। इसके साथ उन्हें 15 हजार का मूव टीए भी मिलेगा। वैसे तो एडवांस पार्टियों की कश्मीर रवानगी का दिन 22 अप्रैल है, लेकिन शुक्रवार को गुड फ्राइडे की छुट्टी है और शनिवार व रविवार को सचिवालय वैसे ही बंद रहता है। ऐसे में एडवांस पार्टियों में शामिल कश्मीर के कर्मचारी 18 अप्रैल से ही श्रीनगर का रुख कर लेंगे। इस बारे में सचिवालय कर्मचारी यूनियन के उपप्रधान सुरेश बेदी ने बताया कि दरबार मूव को लेकर इस्टेट विभाग ने निर्देश जारी कर दिए हैं। हमारी कोशिश है कि जम्मू सचिवालय में दरबार बंद होने के दिन तक कामकाज हो। इसके साथ दरबार मूव की तैयारियां भी जारी रहेंगी।