मोबाइल इंटरनेट सेवाओं के निलंबन के विरोध में जेकेएनपीपी ने सात दिसंबर को जम्मू बंद का आह्वान किया

जम्मू-कश्मीर नेशनल पैंथर्स पार्टी (जेकेएनपीपी) ने मोबाइल इंटरनेट सेवाओं के निलंबन और जम्मू पठानकोट राजमार्ग पर सरोरे में टोल प्लाजा स्थापित करने के विरोध में सात दिसंबर को जम्मू बंद का आह्वान किया है। जम्मू-कश्मीर में पांच अगस्त को संविधान के अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को हटाये जाने के बाद से मोबाइल इंटरनेट सेवाएं निलंबित हैं। जेकेएनपीपी के चेयरमैन और पूर्व मंत्री हर्ष देव सिंह ने कहा, ‘‘हम लोगों से अपील करते हैं कि सरकार के सत्तावादी कदम के खिलाफ वह सात दिसंबर को आयोजित होने वाले शांतिपूर्ण बंद में हिस्सा लें।’’ जम्मू-कश्मीर में मोबाइल इंटरनेट सेवायें चार अगस्त से ही बंद हैं। इसके एक दिन बाद केंद्र सरकार ने संविधान के अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को समाप्त कर दिया और राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांटने का फैसला किया, जो 31 अक्टूबर को अस्तित्व में आए। हालांकि, जम्मू क्षेत्र में फिक्स्ड लाइन इंटरनेट सेवायें, खासकर ब्रॉड बैंड काम कर रहा है। सिंह ने कहा, ‘‘इससे सबसे अधिक छात्र प्रभावित हुए हैं, जो सामान्य एवं प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं। इंटरनेट सेवाएं नहीं होने से बेरोजगार युवकों को भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। व्यापारी भी बड़े पैमाने पर प्रभावित हुए हैं और उन्हें घाटा उठाना पड़ रहा है।’’ प्रदेश के साम्बा जिले के सरोरे में स्थापित टोल प्लाजा का हवाला देते हुए सिंह ने आरोप लगाया कि मंदिरों का शहर अब ‘‘टोल प्लाजा के शहर’’ में तब्दील हो चुका है।