J&K: 15 देशों के राजदूतों ने दूसरे दिन की जम्मू के माइग्रेंट टाउनशिप में कश्मीरी पंडितों से मुलाकात

जम्‍मू कश्‍मीर के दौरे पर गए 15 देशों के राजदूतों ने दूसरे दिन कश्‍मीरी पंडितों के प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात की। जम्‍मू जिले में हुई इस मुलाकात में उन्‍हें प्रतिनिधिमंडल से बात की और कई मुद्दों के बारे में जानने की कोशिश की। गुरुवार को राजदूतों का एक समूह जम्‍मू कश्‍मीर के दो दिवसीय दौरे पर गया था। अगस्‍त में राज्‍य से आर्टिकल 370 हटने के बाद यह पहला प्रतिनिधिमंडल था जो घाटी पहुंचा था। इस दौरे का सारा इंतजाम सरकार की तरफ से किया गया था और विदेश मंत्रालय के सीनियर ऑफिसर्स प्रतिनिधिमंडल के साथ थे।

घाटी में नजर आया सकारात्‍मक माहौल
इस मौके पर वियतनाम के राजदूत फैम सान्‍ह छाऊ ने कहा है कि उन्‍हें घाटी के लोगों की जिंदगी में सामान्‍यता नजर आती है जो कि एक सकारात्‍मक संकेत है। उन्‍होंने बताया कि इस दौरान उन्‍होंने घाटी में अलग-अलग संगठनों के लोगों से मुलाकात की और उनकी भावनाओं को समझने की कोशिश की। छाऊ की मानें तो घाटी के लोग वर्तमान हालातों से काफी खुश नजर आ रहे हैं। वियतनाम के राजदूत ने आगे कहा कि जो लोग भी घाटी के दौरे पर आए हैं वे सभी न तो सच तलाशने वाला कोई प्रतिनिधिमंडल है और न ही इंटरनेशनल कोर्ट के जज हैं। सभी सिर्फ अपनी इच्‍छा से आर्टिकल 370 हटने के बाद से जम्‍मू कश्‍मीर के हालातों को परखने आए हैं। वियतनाम के राजदूत की मानें तो उन्‍होंने जब लोगों से बात की तो उनके चेहरे पर खुशी नजर आई।