तीर्थयात्रियों के लिए खोली गई वैष्णो देवी मंदिर की पुरानी गुफा

त्रिकुटा पहाड़ियों पर स्थित वैष्णो देवी मंदिर की पुरानी और प्राकृतिक गुफा श्रद्धालुओं के दर्शन के लिए खोल दी गई। अधिकारियों ने बताया कि पुरानी गुफा केवल जनवरी और फरवरी के दौरान खोली जाती है जब भीड़ बहुत कम होती है। शेष महीनों में तीर्थयात्रियों को गर्भगृह तक पहुंचने के लिए नई गुफाओं से होकर गुजरना पड़ता है।अधिकारियों ने बताया कि हर साल मकर संक्रांति के बाद तीर्थयात्रियों के लिए यह प्राकृतिक गुफा खोली जाती है। श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रमेश कुमार ने कहा, ‘‘गुफा अब दर्शन की खातिर तीर्थयात्रियों के लिए खोल दी गई है।’’अधिकारी ने कहा कि उप-संभागीय मजिस्ट्रेट को भीड़ को देखते हुए पुरानी गुफा से दर्शन को विनियमित करने के लिए अधिकृत किया गया है ताकि तीर्थयात्रियों को किसी भी तरह की असुविधा नहीं हो।सीईओ ने कहा कि जब दिन भर में आने वाले तार्थयात्रियों की संख्या 10 हजार से कम होती है, तभी इस प्राकृतिक गुफा को खोलने की अनुमति दी जाती है।