जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर दो दिन बाद एक ओर का यातायात बहाल

रामबन सेक्टर में अनेक भूस्खलनों और बर्फबारी के कारण दो दिन से बंद जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर एक ओर का यातायात गुरुवार को बहाल कर दिया गया।यातायात विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि राजमार्ग पर से बर्फ और भूस्खलन का मलबा हटाए जाने के बाद आज सुबह श्रीनगर से जम्मू की ओर जाने वाले मार्ग को यातायात के लिए बहाल कर दिया गया। कश्मीर को पूरे देश से जोड़ने वाला राजमार्ग ताजा बर्फबारी और मूसलाधार बारिश के बाद मंगलवार से बंद था। इसके कारण यहां हजारों लोग फंस गए थे। उन्होंने कहा, ‘‘ सभी फंसे वाहनों को कल निकाल दिया गया था, जिसके बाद मार्ग पर एक ओर का यातायात बहाल हो पाया।’’ पंथियाल और रम्सू के बीच ताजा हिमपात से मंगलवार को करीब एक फुट तक बर्फ जमने, लगातार बारिश, कई भूस्खलन और चट्टानों से पत्थर गिरने के कारण जवाहर सुरंग को बंद करना पड़ गया था।यहां बुधवार को एक कार के भूस्खलन की चपेट में आने से जिससे 25 वर्षीय एक युवक की मौत हो गई थी।इस बीच, मौसम विज्ञान विभाग के एक प्रवक्ता ने बताया कि जम्मू में न्यूनतम तापमान शून्य से 4.5 डिग्री नीचे दर्ज किया गया। प्रवक्ता ने बताया कि डोडा जिले का भद्रवाह सबसे ठंडा इलाका रहा, जहां तापमान शून्य से नीचे 2.5 डिग्री सेल्सियस रहा। वहीं रामबन के बनिहाल में शून्य से नीचे 0.2 डिग्री सेल्सियस और बटोटा में 1.5 डिग्री सेल्सियस रहा। उन्होंने बताया कि रियासी जिले में माता वैष्णो देवी मंदिर जाने वाले श्रद्धालुओं के आधार शिविर कटरा में न्यूनतम तापमान 4.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।