फिर से सैलानियों के आकर्षण का केन्द्र बनेगा पटनीटॉप, केबल कारों का काम पूरा

जम्मू-कश्मीर में कभी पर्यटकों के बीच काफी लोकप्रिय रहे पटनीटॉप को फिर से पर्यटन के नक्शे पर लाने के लिए यहां केबल-कार (रोप-वे) शुरू किय जा रहा है। जम्मू में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए 2.8 किलोमीटर लंबी इस पर्यावरण हितैषी परियोजना के लिए 15 साल पहले योजना बनाई गयी थी। इसे पीपीपी मॉडल के तहत 150 करोड़ रुपये की लागत से एम्पिरियन स्काईव्यू प्रोजेक्ट्स प्राइवेट लिमिटेड ने फ्रांस की एक कंपनी के साथ मिलकर महज ढाई साल में इसे पूरा किया है। बेहद चुनौतीपूर्ण भौगोलिक स्थिति के बावजूद इस रोप-वे का काम पूरा हो चुका है, स्थानीय लोगों, छात्रों और अन्य लोगों के साथ इसका परीक्षण भी पूरा हो गया है। इसे किसी भी वक्त पर्यटकों के लिए खोला जा सकता है। स्काईव्यू के प्रबंध निदेशक सैयद जुनैद अल्ताफ ने बताया कि हम इसे शुरू करने के लिए तैयार हैं.. बस सरकार से मंजूरी मिलने का इंतजार है… यकीन है कि इस केबल-कार (रोप-वे) की शुरूआत से क्षेत्र में पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। उधमपुर जिले में समुद्र तल से 6,640 फुट की ऊंचाई पर स्थित पटनीटॉप एक समय में पर्यटकों के बीच काफी लोकप्रिय था। लेकिन जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग पर चेनानी-नशारी सुरंग वाला रास्ता बनने के बाद यहां पर्यटकों की आवक कम हो गई। इस रोप-वे का निचला हिस्सा संगेत में है जबकि ऊपरी हिस्सा पटनीटॉप में। चेनानी-नशारी सुरंग से यह महज तीन किलोमीटर की दूरी पर है, ऐसे में लोग आसानी से रोप-वे तक पहुंच सकते हैं।