जम्मू-कश्मीरः पब्लिक सेक्टर बैंक-कर्मी हड़ताल पर, कामकाज प्रभावित

जम्मू प्रोविंस बैंक इंप्लाइज फेडरेशन के बैनर तले सोमवार को विभिन्न बैंक इकाइयों की हुई बैठक में मंगलवार (22 अक्तूबर) को मांगों के लिए काम छोड़ो हड़ताल करने का ऐलान किया गया। हड़ताल से कई बैंकों से जुड़ा कामकाज प्रभावित होगा। इससे लेनदेन की प्रक्रिया नहीं हो सकेगी।बैठक की अध्यक्षता करते हुए फेडरेशन के उपप्रधान आरके बांबा ने कहा कि मुख्य श्रम आयुक्त (सेंट्रल) को हड़ताल के लिए नोटिस दिया गया था। सोमवार को आईबीए और वित्त मंत्रालय, वित्त सेवा के प्रतिनिधियों के साथ बैठक में कर्मियों की मांगों को लेकर कोई राय नहीं बन पाई। आईबीए की ओर से एआईबीईए/बीईएफआई से हड़ताल पर न जाने की अपील की गई, लेकिन मांगों पर कुछ नहीं हो पाया है।

महासचिव अरुण कुमार गुप्ता ने कहा कि बैठक में कोई फैसला न हो पाने के कारण कर्मियों ने हड़ताल पर जाने का निर्णय बरकरार रखा है। फेडरेशन के संबंधित इकाइयों में कामकाज ठप रखा जाएगा। फेडरेशन की प्रमुख मांगों में बैंकों का विलय न करना, बैंकिंग सुधारों की प्रक्रिया को रोकना, खराब ऋणों की रिकवरी करने के साथ डिफाल्टरों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करना, ग्राहक के पेनल और सर्विस चार्जेज को न बढ़ाने, जमाखाते पर ब्याज को बढ़ाने, नौकरी पर हमले रोकने और उनकी सुरक्षा सुनिश्चित बनाने, बैंकों में पर्याप्त भर्तियां करना आदि शामिल है।