जम्मू कश्मीर: हवाई जहाज़ और ट्रेन से आने वाले सभी यात्रियों को 14 दिन के लिए किया जाएगा क्वॉरंटीन

लॉकडाउन-4 में हवाई और रेल सेवाए शुरू किये जाने की घोषणा के बाद जम्मू कश्मीर प्रशासन ने एक बड़ा फैसला लिया है. हवाई जहाज़ और ट्रेन से आने वाले सभी यात्रियों को प्रदेश में आते ही 14 दिन के लिए क्वॉरंटीन किया जाएगा.

प्रदेश के प्रधान सचिव रोहित कंसल ने सरकार के फैसले के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि 25 मई से शुरू होने वाली हवाई सेवाओं और 1 जून से शुरू होने वाली रेल सेवाओं से प्रदेश में आने वाले सभी लोगों को 14 दिन के लिए प्रशासनिक क्वॉरंटीन में रखा जाएगा. यह फैसला नेशनल डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट के तेहत अनिवार्य होगा.

अभी तक जम्मू कश्मीर प्रशासन ने रेल और बस के ज़रिये देश के विभिन राज्यों में फंसे एक लाख के करीब लोगों को वापस ला चुका है, और लाये गए सभी लोगों को 14 दिन के क्वॉरंटीन में रखा गया. इनमें विदेशों से लाये गए तीन हज़ार से ज्यादा प्रवासी भी शामिल हैं.

22 मई को भी दुबई से वन्दे भारत मिशन के तेहत एयर इंडिया कि विशेष फ्लाइट से 155 यात्रियों को वापस लाया गया.

प्रदेश में कोरोना के अभी तक 1489 मामले सामने आये हैं और 20 लोगों की मृत्यु भी हई है. पिछले दो हफ्तों में कोरोना संक्रमण के ज्यादातर नए मामले प्रवासी लोगों के कारण ही सामने आये हैं. इसलिए प्रशासन ने आगे भी आने वाले लोगों को किसी भी हाल में क्वॉरंटीन के बिना प्रदेश में घुसने पर रोक लगा दी है.