रजनी सेठी के नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग के पैरामेडिकल कर्मचारी पूर्व उप मुख्यमंत्री से मिले

स्वास्थ्य विभाग के पैरामेडिकल कर्मचारी जो कि एसआरओ 384 के तहत विभिन्न पदों पर सरकार द्वारा लगे हुए हैं ने मंगलवार को भाजपा महिला मोर्चा अध्यक्ष रजनी सेठी के नेतृत्व में पूर्व उप मुख्यमंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता कविंदर गुप्ता से उनके आवास पर मुलाकात की। उन्होंने विभाग में छह साल की सेवाओं को पूरा करने वाले कई कर्मचारियों को वेतन का भुगतान नहीं करने और विभाग से बर्खास्त होने के डर से संबंधित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की।

प्रतिनिधिमंडल ने पूर्व उपमुख्यमंत्री के ध्यान में लाया कि वे और पूरे राज्य में सभी कर्मचारी विभाग में समर्पण भाव से अपनी सेवाएं दे रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि कश्मीर डिवीजन के कर्मचारियों की तुलना में जम्मू डिवीजन के कर्मचारियों के साथ सौतेला व्यवहार किया जाता है। जम्मू में छह साल या उससे अधिक की सेवा पूरी करने वाले कर्मचारी नियमित रूप से अपने कर्तव्यों को पूरा कर रहे हैं और उनकी जैव-मीट्रिक उपस्थिति भी दैनिक आधार पर दर्ज की गई है लेकिन वेतन का भुगतान नहीं किया गया है। वहीं दूसरी ओर कश्मीर के समकक्षों को नियमित वेतन मिल रहा है।

प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व कर रही रजनी सेठी ने कहा कि विभिन्न पदों पर काम करने वाले जम्मू संभाग के पैरामेडिकल कर्मचारी मुख्य रूप से महिला हैं और जम्मू संभाग के साथ भेदभाव को हल्के में नहीं लिया जा सकता है। उन्होंने कविंद्र गुप्ता से आग्रह किया कि वे कर्मचारियों के सामने आने वाली समस्याओं के शीघ्र निवारण के लिए शीध्र ही कोई हल निकालें ताकि वे परिवार के लिए रोटी कमाने में सक्षम हों।

गुप्ता ने प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों को आश्वासन दिया कि उनकी मांगें वास्तविक हैं और इस मामले को राज्यपाल और केंद्र सरकार तक भी ले जाया जाएगा। उन्होंने कहा कि भाजपा राज्य के नागरिकों के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध है।

 

गुप्ता ने यह भी आश्वासन दिया कि राज्यपाल प्रशासन के सौतेले व्यवहार पर राज्यपाल और भारत सरकार के साथ भी चर्चा की जाएगी। उन्होंने कहा कि वह जल्द ही राज्यपाल से मिलेंगे और एनएचआरएम कर्मचारियों की बात भी उठाएंगे।