सचिव पीडीडी ने उधमपुर से बनिहाल तक एनएच-44 की 4 लेनिंग के लिए उपयोगिताओं के स्थानांतरण की समीक्षा की

-विद्युत विकास विभाग के सचिव एम राजू ने आज उधमपुर से बनिहाल तक राष्ट्रीय राजमार्ग (एनएच)-44 की 4 लेनिंग के काम में आने वाली उपयोगिताओं के स्थानांतरण की समीक्षा करने के लिए विद्युत विकास विभाग के पावर ट्रांसमिशन कॉर्पोरेशन के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ एक बैठक की अध्यक्षता की।
बैठक में निदेशक जम्मू और कश्मीर पावर ट्रांसमिशन कॉरपोरेशन पी.आर. अंगुराला, निदेशक योजना पीडीडी राकेश जम्वाल, मुख्य अभियंता विद्युत विकास निगम एस. गुरमीत सिंह, कार्यकारी अभियंता जेकेपीटीसीएल उधमपुर एस.के. आनंद भी उपस्थित थे।
बैठक में उपयोगिताओं के सुचारू स्थानांतरण के रास्ते में आने वाले विभिन्न मुद्दों और बाधाओं पर चर्चा की गई। इस बारे में बताया गया कि संबंधित कार्य के लिए 45 ट्रांसमिशन टावरों का निर्माण किया जाना आवश्यक है।
यह बताया गया कि कार्य को तीन खंडों में विभाजित किया गया है जिसमें उधमपुर से चेनानी और नाशरी से रामबन खंडों को मई 2020 तक पूरा करने की संभावना है और रामबन से बनिहाल खंड अक्टूबर 2020 तक पूरा हो जाएगा।
बैठक को सूचित किया गया कि कोविड-19 के प्रकोप के कारण पिछले एक महीने से काम की गतिविधियाँ स्थगित हैं और यह आशा की जाती है कि भारत सरकार द्वारा हाल ही में जारी किए गए दिशा-निर्देशों के मद्देनजर जहाँ बुनियादी ढांचा विकास परियोजनाएँ प्राथमिकता के आधार पर ली जानी हैं और तदनुसार अब इन गतिविधियों को फिर से शुरू किया गया है। अधिकारियों ने कहा कि हालांकि, विभिन्न कार्यों के पूरा होने की तारीख में एक ढेड़ महीने की देरी हो सकती है।
सचिव ने कहा कि कार्य राष्ट्रीय हितों के हैं और कम से कम समय में पूरे होंगे।