जम्मू: अनलॉक 1.0 में वैष्णो देवी मंदिर के खुलने की उम्मीद, गाइडलाइंस का इंतजार कर रहा श्राइन बोर्ड

देश में कोरोना वायरस को हराने के लिए जारी लॉकडाउन को अब अनलॉक करने की तैयारी की जा रही है. केंद्र सरकार अनलॉक 1.0 की शुरुआत 8 जून से करने जा रही है, जिसमें होटल्स और माल्स के साथ ही धार्मिक स्थलों को खोला जाएगा.

कोरोना वायरस के चलते जम्मू में प्रसिद्ध माता वैष्णो देवी जी की यात्रा और उत्तर भारत के सब से बड़े राम मंदिरो में शुमार श्री रघुनाथ जी के मंदिर को 18 मार्च से श्रद्धालुओं के दर्शनों के लिए बंद कर दिया गया था, लेकिन, अब केंद्र सरकार के इन नए दिशा निर्देशों के बाद आठ जून से इनके खुलने के कयास लगाए जा रहे है.

श्राइन बोर्ड कर रहा गाइडलाइन का इंतजार

वहीं अगर श्री माता वैष्णो देवी की यात्रा का संचालन करने वाले श्री माता वैष्णोदेवी श्राइन बोर्ड ने यह साफ कर दिया है कि यात्रा को शुरू करने का अंतिम फैसला बोर्ड ही लेगा. बोर्ड ने दावा किया है कि फिलहाल वो उन दिशानिर्देशों का इंतजार कर रहा है जो धर्मस्थलो की यात्रा को शुरू करने से पहले स्वास्थ्य विभाग ने जारी करनी है. इसके साथ ही बोर्ड प्रदेश सरकार द्वारा जारी होने वाली गाइडलाइन्स का भी इंतजार कर रहा है, ताकि यात्रा को शुरू करने को लेकर रूपरेखा तैयार की जाए.

‘प्रदेश सरकार के दिशानिर्देश के बाद लेंगे फैसला’

वहीं जम्मू में श्री रघुनाथ मंदिर और कश्मीर के शंकरायाचार्य मंदिर समेत कई बड़े मंदिरों का संचालन करने वाले धर्मार्थ ट्रस्ट के ट्रस्ट्री कुंवर विक्रमदित्य सिंह का कहना है कि वो भी स्वास्थ्य विभाग और प्रदेश सरकार के दिशानिर्देश जारी होने के बाद ही मंदिरों को खोलने पर अंतिम फैसला लेंगे.

‘श्रद्धालुओं की सुरक्षा ज्यादा जरूरी’

उनके मुताबिक इस महामारी के चलते बंद पड़े मंदिरों को खोलना उनकी प्राथिमिकता है, लेकिन उससे अधिक जरूरी श्रद्धालुओं की सुरक्षा है. उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य विभाग और सरकार की तरफ से जो भी दिशानिर्देश जारी होंगे उनका पालन किया जाएगा ताकि मंदिरों में आने वाले श्रद्धालओं की सुरक्षा को सुनिश्चित किया जा सके.