J&K: आंतकियों से लोहा लेने के लिए तैयार NCC की महिला कैडेट्स, कहा- ‘पाकिस्तान को देंगे उसी की भाषा में जवाब’

एनसीसी (NCC) की महिला कैडेट्स आतंकियों से लोहा लेने के लिए तैयार हैं. कश्मीर घाटी में शहीद हुए सेना और सीआरपीएफ के 8 बहादुर योद्धाओं को श्रद्धांजलि देते हुए उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को उसी की भाषा में जबाव देने का समय आ गया है.

एक तरफ जहां कोरोना वायरस के चलते पूरी दुनिया में हाहाकार मचा हुआ है. वहीं दूसरी ओर भारत का पड़ोसी देश पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज आने का नाम नहीं ले रहा है. वह लगातार देश के अंदर आंतकियों को भेजकर अशांति का माहौल बनाना चाहता है. इसी कड़ी में उधमपुर की महिला एनसीसी कैडेट्स ने बीते दिनों में घाटी में शहीद हुए सेना और सीआरपीएफ के जवानों को शहीद तुषार महाजन स्मारक पर जाकर श्रद्धाजंलि दी और उनकी शहदात को सलाम किया.

लॉकडाउन के चलते इन महिला कैडेट्स ने अपने घरों से योद्धाओं की शहादत को सलाम करते और देश के युवाओं को प्रेरित करने वाले वीडियो बनाए हैं, जो इन दिनों काफी चर्चा में हैं. देश की इन बहादुर एनसीसी के कैडिट बेटियों ने कहा कि वह देश के लिए मर मिटने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं. इन्होंने कहा कि अब समय आ गया है कि पाकिस्तान को उसी की भाषा में करारा जबाव दिया जाए.

कैडेटों में पाकिस्तान के प्रति गुस्से देखते ही बनता था. उन्होंने कहा कि अगर देश के प्रधानमंत्री उन्हें अनुमति दें तो वह भी देश के दुश्मनों के साथ दो दो हाथ कर सकती हैं और आतंकियों से लोहा लेने के लिए सर्वप्रथम श्रेणी में खड़े रह सकती हैं.