जम्‍मू-कश्‍मीर: आतंकियों ने BJP के राज्य सचिव और उनके भाई की गोली मारकर हत्या की

बीजेपी के राज्य इकाई के सचिव अनिल परिहार की किश्तवाड़ में गोली मारकर हत्या कर दी गई है। अभी ये साफ नहीं है कि उन्हें किन लोगों ने निशाना बनाया। अनिल परिहार और उनके भाई अजीत परिहार को उनके घर के बाहर निशाना बनाया गया। अजीत परिहार एसएफसी के कर्मचारी थे। दोनों भाई स्टेशनरी के दुकान को बंद करने के बाद वापस अपने घर आ रहे थे। 2008 में अनिल परिहार ने पैंथर पार्टी के टिकट पर किश्तवाड़ से चुनाव लड़ा था। इन सबके बीच किश्तवाड़ कस्बे में कर्फ्यू के साथ धारा 144 लागू कर दी गई है।

बीजेपी राज्य इकाई के अध्यक्ष रविंदर रैना का कहना है कि अनिल परिहार और उनके भाई को आतंकियों ने मारा है। दोनों लोगों को तत्काल अस्पताल ले जाया गया। लेकिन उन लोगों को बचाया नहीं जा सका। रविंदर रैना ने कहा कि वो कायराना हरकत की निंदा करते हैं। जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के साथ लड़ाई और उत्साह के साथ जारी रहेगी।

जम्मू-कश्मीर पुलिस मौके पर है और मामले की जांच कर रही है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि अभी पुख्ता तौर पर कह पाना मुश्किल है कि किन लोगों ने इस हत्याकांड को अंजाम दिया है। लेकिन जल्द ही गुनहगारों को पकड़ लिया जाएगा। पुलिस का कहना है कि हत्याकांड के पीछे की सभी वजहों पर गहराई से जांच पड़ताल की जा रही है।

जम्मू एवं कश्मीर के बडगाम जिले में गुरुवार को सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गए। घटना के बाद बडगाम और पुलवामा जिलों में बड़े पैमाने पर लोगों ने प्रदर्शन किया। इस प्रदर्शन की चपेट में आकर एक महिला बुरी तरह घायल हो गई। इसके साथ ही मुठभेड़ के दौरान एक जवान भी घायल हो गया।पुलिस ने एक बयान में कहा कि बडगाम के अरिजल क्षेत्र के बुग्गू गांव में मारे गए आतंकवादियों की पहचान बडगाम के मुख्तार अहमद और पंपोर के मुहम्मद आमीन मीर के रूप में हुई है।