अमरनाथ यात्रा शुरू, बाबा बर्फानी के दर्शन करने निकला यात्रियों का पहला जत्था

अमरनाथ यात्रा ‘बम-बम भोले’ के जयकारों के साथ सोमवार को शुरू हो गई है। यात्रा के लिए 2,234 श्रद्धालुओं का पहला जत्था बालटाल बेस कैंप से रवाना हुआ। बाबा बर्फानी के दर्शन करने पहुंच रहे इन श्रद्धालुओं का जगह-जगह पर स्वागत भी किया गया। इस यात्रा को देखते हुए सुरक्षा के खास प्रबंध किए गए हैं। 46 दिनों तक चलने वाली इस यात्रा की शुरुआत जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक के सलाहकार केके शर्मा द्वारा की गई।
93 वाहनों के पहले काफिले में 2,234 यात्री शामिल हैं। पिछले हफ्ते केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने अपने दौरे के समय राज्य की सुरक्षा एजेंसियों को इस बात के निर्देश दिए थे कि वे आश्वस्त करें कि यात्रा पूरी तरह से सुरक्षित हो। बता दें कि यात्रा का समापन 15 अगस्त को होगा।
सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम
बाबा बर्फानी के दर्शन के लिए अब तक देशभर से करीब डेढ़ लाख श्रद्धालुओं ने पंजीकरण कराया है। यह यात्रा अनंतनाग जिले के 36 किलोमीटर लंबे पारंपरिक पहलगाम मार्ग और गांदरबल जिले के 14 किलोमीटर लंबे बालटाल मार्ग से जाती है। केके शर्मा ने कहा, ‘शांतिपूर्ण और सुचारू यात्रा के लिए सभी जरूरी इंतजाम किए गए हैं।’ गौरतलब है कि वर्ष 2017 में अनंतनाग में आतंकियों ने हमला कर दिया था, जिसकी वजह से आठ यात्री मारे गए थे।
गुफा तक जाने के हैं दो रास्ते
पहलगाम से 130 महिलाओं, 7 बच्चों और 45 साधुओं समेत 1228 श्रद्धालु पारंपरिक पहलगाम मार्ग से जाएंगे।
बालटाल से 203 महिलाएं एवं 10 बच्चों समेत 1,006 श्रद्धालु यात्रा पूरी करेंगे।