जम्मू कश्मीर: दो अलग-अलग एनकाउंटर में सेना ने ढेर किए 6 आतंकी, एक ओवरग्राउंड वर्कर भी गिरफ्तार

जम्मू कश्मीर में भारतीय सुरक्षा बलों द्वारा आतंकियों के खिलाफ चलाए जा रहे ऑपरेशन में गुरुवार को एक बड़ी सफलता मिली है. राज्य में हुए दो अलग-अलग एनकाउंटर में सुरक्षा बलों ने 6 आतंकियों को ढेर कर दिया है. अनंतनाग जिले के बिजबेहरा में सुरक्षा बलों ने एक मुठभेड़ में चार आतंकियों को ढेर कर दिया. वहीं, बारामूला के किरी गांव में हुई एक अन्य मुठभेड़ में दो आतंकियों को ढेर कर दिया. इस मुठभेड़ के बाद सुरक्षाबलों ने आतंकियों के पास से बड़ी मात्रा में हथियार और गोला-बारूद भी बरामद किया. वहीं, एक अन्य घटना में सुरक्षा बलों ने पुलिस के साथ मिलकर आतंकियों के लिए काम करने वाले एक ओवरग्राउंड वर्कर को गिरफ्तार करने में भी कामयाबी पाई है.
मारे गए चारों आतंकियों की पहचान नहीं हो पाई
आतंकियों के सफाए में लगे भारतीय सुरक्षाबलों के जवानों को अनंतनाग जिले के बिजबेहरा में बड़ी कामयाबी मिली. बिजबेहरा में गुरुवार को आतंकवादियों के साथ सुरक्षा बलों की जारी मुठभेड़ खत्म हो गई. इस मुठभेड़ में सुरक्षा बलों ने चार आतंकवादियों को ढेर कर दिया. हालांकि, अभी तक इनकी पहचान नहीं हो पाई है. वहीं, एक अन्य मुठभेड़ में सुरक्षा बलों और पुलिस ने कुपवाड़ा जिले से आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन के लिए काम करने वाले एक ओवरग्राउंड वर्कर को गिरफ्तार किया है.
सुरक्षा बलों ने ओवरग्राउंड वर्कर को किया गिरफ्तार
इस ओवरग्राउंड वर्कर के पास से काफी मात्रा में हथियार और गोला-बारूद भी बरामद हुआ. प्राप्त जानकारी के अनुसार, पुलिस ने ओवरग्राउंड वर्कर पर विभिन्न धाराओं में केस दर्ज कर लिया है. मामले की जांच की जा रही है. गौरतलब है कि सुरक्षा बलों ने गुरुवार को बारामूला के किरी गांव में भी दो आतंकियों को ढेर कर दिया. मुठभेड़ के बारे में जानकारी देते हुए एसएसपी इम्तियाज हुसैन ने बताया कि हमें गुरुवार सुबह जानकारी मिली थी कि बारामूला के किरी गांव में दो आतंकवादी छुपे हुए हैं. सेना और पुलिस ने तत्काल ही आतंकियों को घेर लिया. हमने प्रयास किया कि आतंकी सरेंडर कर दें, लेकिन उन्होंने सरेंडर नहीं किया.

सरेंडर करने को कहने के बावजूद आतंकियों ने चला दी गोलियां
पुलिस अधिकारी के अनुसार, सुबह से जारी इस मुठभेड़ में सुरक्षा बलों ने आतंकवादियों से सरेंडर कराने के पूरे प्रयास किए थे. सुरक्षा बलों ने इलाके की घेराबंदी कर दी थी, लेकिन आतंकियों ने सुरक्षा बलों पर गोली चला दी थी.