जम्मू-कश्मीरः आफत बनकर आया हिमस्खलन, बर्फीले तूफान की चपेट में आने से तीन जवान शहीद, दो लापता

उत्तरी कश्मीर में हिमस्खन और भारी बर्फबारी ने पिछले 48 घंटों में जमकर तबाही मचाई है। जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा के मचैल सेक्टर में रिंगबाला इलाके में बर्फीला तूफान आया। 45 राष्ट्रीय रायफल के पांच जवान इस तूफान की चपेट में आ गए। जानकारी मिलते ही सेना ने बचाव कार्य शुरू किया। जब तक जवानों की टुकड़ी बर्फ में दबे सैनिकों तक पहुंचती तब तक तीन जवान शहीद हो चुके थे। दो लापता जवानों की तलाश अभी जारी है।
वहीं कड़ाके की सर्दी से जूझ रहे जम्मू-कश्मीर में सोमवार को हुई बारिश और बर्फबारी ने लोगों की दुश्वारियां और बढ़ा दी। इस दौरान बारामुला, बांदीपोरा और गांदबरबल में हिमस्खलन में कई मकान दब गए हैं, जबकि भूस्खलन की चपेट में आकर रामबन में एक युवक की मौत हो गई। रियासी के खरोड़ी करूर इलाके में भूस्खलन की चपेट से एक वैन नदीं में गिर गई। इसमें चालक की मौत हो गई, जबकि तीन को अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहीं भूस्खलन के चलते प्रदेश में सौ से अधिक संपर्क मार्ग बंद हो गए हैं।

रामबन से मिली जानकारी के मुताबिक जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर सोमवार दोपहर खूनी नाला इलाके में गिरे पत्थरों की चपेट में आकर युवक नाले में गिर गया। पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से नाले से शव निकाला। मृतक की पहचान मौलाना खलील अहमद सोहिल निवासी सरबदनी रामसू के तौर पर हुई है।