कश्मीर में व्यापारियों को ‘धमकाने’ वाले नौ गिरफ्तार

जम्मू कश्मीर के श्रीनगर और बारामुला जिलों से नौ व्यक्तियों को कथित रूप से हिंसा में लिप्त होने, व्यापारियों को धमकी देने और उन्हें अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधान समाप्त करने के विरोध में दुकानें बंद करने के लिए बाध्य करने को लेकर गिरफ्तार किया गया है। पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया, ‘‘पुलिस थाना बारामुला को सूचना मिली कि कुछ शरारती तत्वों ने बारामुला बाजार में तीन अलग अलग स्थानों पर दुकानों को आग लगा दी है जिसमें एक शॉपिंग कॉम्प्लेक्स सहित कई दुकानें क्षतिग्रस्त हो गईं। एक मामला दर्ज किया गया और जांच शुरू की गई है।’’ प्रवक्ता ने बताया कि जांच के दौरान अधिकारी वैज्ञानिक और प्रौद्योगिकी सहायता से अपराध में शामिल शरारती तत्वों की पहचान करने में सफल रहे और उसके बाद चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार व्यक्तियों की पहचान मोहम्मद मारूफ सलियाह उर्फ आदिल, बिलाल मेहराज भट, समीर अहमद शाकरू और आदिल गफ्फार सोफी के तौर पर की गई है। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि शहर में कुछ व्यापारिक प्रतिष्ठानों पर पेट्रोल छिड़कने और दुकानदारों को दुकानें बंद करने के लिए धमकाने में लिप्त पांच अन्य को शहर के अलग अलग हिस्सों से गिरफ्तार किया गया। अधिकारी ने कहा, ‘‘गिरफ्तार किये गए ये व्यक्ति पेट्रोल बम फेंकने और श्रीनगर शहर के आंतरिक क्षेत्रों में दुकानदारों और स्थानीय लोगों को धमकाने में लिप्त थे।’’ अधिकारी ने कहा कि पुलिस रिकार्ड के अनुसार यह समूह सराफकदल, बोहरीकदल, राजौरीकदल, खानयार और नौहट्टा क्षेत्रों में पुलिस और सुरक्षा बलों के वाहनों पर पेट्रोल बम फेंकने में लिप्त था।