सात दिन बाद श्रीनगर में बहाल हुई हवाई सेवा, भारी बर्फबारी और कोहरे से थमी थी रफ्तार

कश्मीर घाटी में घने कोहरे और बर्फबारी के चलते श्रीनगर हवाईअड्डे पर खराब दृश्यता को लेकर लगातार सात दिन से निलंबित उड़ान सेवाएं शनिवार को बहाल हो गई। भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (एएआई) के एक अधिकारी ने बताया, ‘‘उड़ानों का परिचालन सात दिन तक बंद रहने के बाद शनिवार दोपहर बहाल हो गया।’’ उन्होंने कहा कि श्रीनगर हवाईअड्डे पर दोपहर करीब सवा 12 बजे स्पाइस जेट की एक उड़ान पहुंची और उसने दिन में करीब एक बजे उड़ान भरी। अधिकारी ने बताया कि खराब दृश्यता के कारण सुबह की उड़ानें रद्द रहीं, लेकिन मौसम में सुधार दर्ज करने पर हवाईअड्डे से दोपहर की उड़ानें परिचालित होने का कार्यक्रम है।

उन्होंने कहा, ‘‘मौसम और दृश्यता में सुधार हुआ है। दोपहर की सभी उड़ानें अब सामान्य रूप से परिचालित होने वाली हैं।’’ पिछले शुक्रवार को खराब मौसम के कारण कई उड़ानें रद्द की गईं जबकि शनिवार से 13 दिसंबर तक किसी उड़ान का परिचालन नहीं हुआ। घने कोहरे के चलते हवाईअड्डे पर दृश्यता 100 मीटर से भी कम हो गयी थी, जो विमान परिचालन के लिए उपयुक्त नहीं होता है।

अधिकारी ने बताया, ‘‘उड़ानों के परिचालन के लिए आवश्यक दृश्यता 1,000 से 1,200 मीटर होती है। लेकिन पिछले सप्ताह यह 100 मीटर से अधिक नहीं थी। इसलिए परिचालन प्रभावित हुआ।’’ पिछले एक सप्ताह से घाटी के अधिकतर हिस्सों में घना कोहरा छाया था, जिससे दृश्यता प्रभावित हुई और लोगों, खासकर वाहन चालकों को परेशानी हुई। बता दें कि इन दिनों कश्मीर ही नहीं बल्कि देश के तमाम हिस्सों में बारिश और ओलावृष्टि जारी है। पिछले दो दिनों से राजस्थान, हिमाचल प्रदेश, उत्तर प्रदेश में ओले गिर रहे हैं जिससे किसानों की फसलों का भी नुकसान हुआ है।