अमरनाथ यात्रा: यात्रियों को सांस लेने में परेशानी, आईटीबीपी ने मुहैया कराया ऑक्सीजन

अमरनाथ यात्रा के दौरान बालटाल मार्ग पर रविवार को कई तीर्थयात्रियों को सांस लेने में दिक्कत महसूस हुई। जिसके बाद आईटीबीपी के जवानों ने यात्रियों की मदद की।आईटीबीपी के जवानों द्वारा 50 से अधिक तीर्थयात्रियों को ऑक्सीजन दिया गया।

बता दें कि, आईटीबीपी के जवान 12 हजार फीट की ऊंचाई पर सांस लेने में दिक्कत आने के बाद श्रद्धालुओं को आक्सीजन भी उपलब्ध करा रहे हैं। आक्सीजन सिलिंडर के साथ मौजूद जवानों ने चढ़ाई के दौरान श्रद्धालुओं को सांस लेने में दिक्कत आने के बाद तत्काल उनकी मदद की और उन्हें आक्सीजन मास्क लगाया। आईटीबीपी के प्रवक्ता के अनुसार शुक्रवार को भी 50 से अधिक यात्रियों को आक्सीजन देकर उन्हें यात्रा पर रवाना किया गया था।

अमरनाथ यात्रियों की सुरक्षा में लगे आईटीबीपी के जवानों की ओर से बालटाल रूट पर लगातार श्रद्धालुओं की यात्रा को सुरक्षित बनाया जा रहा है। इस रूट पर वाटरफाल प्वाइंट पर यात्रियों का हाथ पकड़कर उन्हें सुरक्षित निकाला गया था। शुक्रवार को इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। जिसमें श्रद्धालु आईटीबीपी का न केवल शुक्रिया अदा कर रहे हैं बल्कि आईटीबीपी जिंदाबाद और भारत माता की जय के नारे भी लगा रहे हैं। इससे पहले वीरवार को पहाड़ों से गिरते पत्थर से यात्रियों को बचाने के लिए ढाल बनकर खड़े हुए जवानों का वीडियो भी वायरल हुआ था।

ज्ञात हो कि आईटीबीपी द्वारा इस बार विशेष मेडिकल दस्ते तैयार किए गए हैं। यात्रा ड्यूटी पर तैनात 77 जवानों को मेडिकल क्रैश कोर्स कराया गया है जो मेडिकल इमरजेंसी से निपट सकें। ये जवान यात्रा मार्ग पर दो से तीन किलोमीटर की दूरी पर तैनात हैं।

सफेद एप्रन पहने इन जवानों के पास पिट्ठू बैग में ऑक्सीजन सिलिंडर और ऑक्सी मीटर है जिससे वह ऑक्सीजन लेवल चेक कर सहायता दे रहे हैं। दोनों मार्गों बालटाल व पहलगाम पर आईटीबीपी के 5000 जवान तैनात हैं।