सात फेरे भी नहीं ले सका देश की सुरक्षा में जुटा जांबाज, कश्मीर की बर्फबारी बनी मुसीबत

देश की रक्षा में तैनात धर्मपुर क्षेत्र का एक जांबाज सैनिक अपनी शादी में पहुंचकर सात फेरे भी नहीं ले सका. कश्मीर में हो रही भारी बर्फबारी ने वहां के लोगों समेत सुरक्षा में लगे जवानों की भी मुश्किलें बढ़ा दी हैं. भारी बर्फबारी में फंसे जवान की गुरुवार को शादी थी उसे हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के धर्मपुर स्थित अपने गांव खैर पड़ाना पहुंचा था. लेकिन भारी बर्फबारी के चलते वह नहीं पहुंच सका.

उधर, शादी की तैयारियां पूरी थीं. बारात धर्मपुर से दलेड जाने को तैयार थी. लेकिन दूल्हा कश्मीर में भारी बर्फबारी में फंस गया. फ्लाइट ना होने के कारण वह तय समय पर घर नहीं पहुंच सका. इसके बाद दुल्हन पक्ष से बातचीत के बाद परिजनों ने निर्णय लिया है कि शादी अब आगे शुभ मुहूर्त देखकर होगी.

पाकिस्तान से लगे रजौरी बॉर्डर पर तैनात 26 साल के सुनील का विवाह 15 जनवरी 2020 को दलेड में तय हुआ था. 16 जनवरी को बारात दलेड आने वाली थी परंतु भारी बर्फबारी के कारण सुनील घर नहीं पहुंच पाया. श्रीनगर के पास पाकिस्तानी सीमा पर तैनात सैनिक सुनील की छुट्टी एक जनवरी से शुरू होने वाली थी और वह घर आने के लिए बांदीपुरा क्षेत्र के ट्रांजिट कैंप पर पहुंच चुका था.

लेकिन उस दौरान हुई भारी बर्फबारी के कारण सङकें बंद हो गईं और सुनील अभी भी वहीं फंसा हुआ है. दोनों परिवारों में विवाह की तैयारियां पूर्ण हो चुकी थीं परंतु युवक के तय समय पर ना पहुंचने के कारण अब अगली तारीख तय की जाएगी. हालांकि दोनों परिवार दूल्हे के ना पहुंचने के कारण मायूस हैं परंतु वह जानते हैं की एक सैनिक के लिए देश सेवा सर्वोपरि है.