हिज्बुल आतंकी जुनैद फारूक पंडित अरेस्ट, अनंतनाग और पुलवामा में दो दिन में पांच आतंकी ढेर

जम्मू-कश्मीर पुलिस, सेना और सीआरपीएफ के जवानों ने हिज्बुल मुजाहिदीन के स्थानीय आतंकवादी जुनैद फारूक पंडित को गिरफ्तार किया। बारामूला जिले के टपर पत्तन में उस पकड़ने के लिए जाल बिछाया गया था।
जम्मू-कश्मीर में दो दिन में पांच आतंकी मारे गए हैं। जम्मू कश्मीर के अनंतनाग जिले में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकवादी मारे गए। पुलिस के एक अधिकारी ने शनिवार को बताया कि मुठभेड़ दक्षिण कश्मीर में बिजबेहरा के संगम इलाके में रात को हुई। उन्होंने बताया कि मारे गए आतंकवादी लश्कर-ए-तैयबा के थे। उनकी पहचान कर ली गई है। मुठभेड़ स्थल से हथियार बरामद किए गए हैं। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले के त्राल इलाके में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में हिजबुल मुजाहिदीन के तीन आतंकवादी मारे गए।
मारे गए आतंकवादियों में संगठन का एक स्वयंभू कमांडर भी शामिल है। पुलिस ने बुधवार को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि आतंकवादियों के बारे में सूचना मिलने पर सुरक्षा बलों ने मंगलवार देर रात त्राल में तलाशी अभियान शुरू किया। इस दौरान आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़ हुई।
पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने यहां संवाददाताओं से कहा कि त्राल क्षेत्र में अभियान में हिजबुल मुजाहिदीन के तीन आतंकवादी मारे गए। सिंह ने कहा कि मारे गए आतंकवादियों की पहचान जहांगीर अहमद वानी, राजा उमर मकबूल और सदात अहमद के रूप में हुयी है।
वानी ने हम्माद के मारे जाने के बाद क्षेत्र में संगठन की कमान संभाली थी। उन्होंने बताया कि मुठभेड़ स्थल से दो एके राइफल, एक पिस्तौल और दो हथगोले सहित अन्य हथियार और गोला-बारूद बरामद किए गए हैं। डीजीपी ने कहा कि पिछले महीने से विभिन्न मुठभेड़ों में 23 आतंकवादियों का सफाया किया गया है।