दिल्ली को लेह से जोड़ने वाली कठिन बस यात्रा की फिर से शुरुआत

बर्फबारी के चलते आठ महीने से अधिक समय तक के लिए बंद रहने के बाद मनाली के रास्ते दिल्ली को लेह से जोड़ने वाली कठिन बस यात्रा की शुरुआत गुरुवार को फिर से हुई. एक अधिकारी ने यह सूचना दी. हालांकि मनाली और लेह शहर के बीच हिमाचल प्रदेश पर्यटन विकास निगम (एचपीटीडीसी) द्वारा संचालित डीलक्स बस सेवा एक जुलाई से शुरू होगी.

दिल्ली-लेह बस मार्ग, जिसमें लाहौल स्पीती के जिला मुख्यालय केलांग में एक रात्रि का ठहराव भी शामिल है, से इस यात्रा को पूरा करने में दो दिन का वक्त लगेगा. हिमाचल सड़क परिवहन निगम (एचआरटीसी) के एक अधिकारी ने आईएएनएस को बताया, “केलांग में एक रात रुकने के बाद यह बस अगले शाम लेह पहुंचेगी.”

अब एचआरटीसी वाया मनाली इस मार्ग पर रोजाना बस सेवा चलाएगी और यह पर्यटकों के लिए एक विशेष आकर्षण का केंद्र होगी. अधिकारी ने कहा, “एडवांस बुकिंग में काफी तेजी देखी जा रही है, इस पर पर्यटकों की प्रतिक्रिया भी अच्छा प्रतीत हो रही है. यात्री ऑनलाइन भी एडवांस बुकिंग करा सकते हैं.”

मनाली के रास्ते दिल्ली-लेह बस सेवा आम तौर से चार महीने तक के लिए ही चालू रहती है क्योंकि साल के बाकी दिनों में बर्फबारी के चलते 475 किमी लंबा मनाली-लेह राजमार्ग बंद रहता है.

यह बस हिमाचल और जम्मू व कश्मीर की चार ऊंचे पहाड़ी दर्रो को पार करती है जिनमें रोहतांग पास (13,050 फीट), बड़ालाचा पास (16,020 फीट), लुंगालाचा पास (16,620 फीट) और तंगलांगला पास (17,480 फीट) शामिल हैं.