जम्मू कश्मीरः कांग्रेस नेता गुलाम मोहम्मद सरूरी के आतंकियों से संबंध!, NIA ने भेजा समन

एनआईए को जम्मू कश्मीर में कांग्रेस के बड़े नेता गुलाम मोहम्मद सरूरी के आंतंकियों से संंबंध की जानकारी मिली है. एनआईए ने पूछताछ के लिए गुलाम मोहम्मद सरूरी को समन भेजा है. इससे पहले कांग्रेस की राज्य इकाई के उपाध्यक्ष और पूर्व मंत्री गुलाम मोहम्मद सरूरी के भाई मोहम्मद शफी सरूरी पर आतंकवादी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन के साथ संबंध का आरोप लगा था. तब उन्होंने पूरे मामले को राजनीति से प्रेरित बताया था.

एनआईए ने गुलाम मोहम्मद सरूरी को समन भेज पूछताछ के लिए बुलाया है. सूत्रों के मुताबिक एनआईए को जानकारी मिली है कि गुलाम मोहम्मद सरूरी के आतंकियों के साथ संबंध है. इससे पहले उनके भाई पर भी इसी तरह के आरोप लग चुके हैं. राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) हिज्बुल मुजाहिदीन के स्वयंभू कमांडर नवीद ‘बाबू’ से संपर्क के मामले में जम्मू-कश्मीर के पूर्व विधायक शेख अब्दुल राशिद से Yr  पूछताछ करेगी. नवीद को जम्मू-कश्मीर पुलिस के निलंबित डीएसपी दविंदर सिंह के साथ गिरफ्तार किया गया था.

 उन्होंने कहा कि नवीद ने दावा किया है कि वह राशिद के संपर्क में था. अवामी इत्तेहाद पार्टी के नेता और ‘राशिद इंजीनियर’ के नाम से लोकप्रिय राशिद ने उत्तर कश्मीर के लंगेट से 2014 विधानसभा चुनाव निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर लड़ा था. एनआईए ने पूर्ववर्ती जम्मू-कश्मीर राज्य में आतंकवादी गतिविधियां पाई जाने संबंधी एक मामले में नौ अगस्त को उसे गिरफ्तार किया था जिसके बाद से वह तिहाड़ जेल में न्यायिक हिरासत में है.