खात्मे की कगार पर हिजबुल मुजाहिदीन, डीएसपी दविंदर मामले पर भी बोले दिलबाग सिंह

जम्मू कश्मीर के शोपियां में सुरक्षाबलों ने आज हिजबुल के तीन आतंकियों को मार गिराया है। इस संबंध में जम्मू कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने कहा कि हिजबुल मुजाहिदीन दक्षिण कश्मीर में पूरी तरह से खत्म होने की कगार पर है। शोपियां में आज हमने 3 आतंकवादियों को मार गिराया है। मारे गए आतंकवादियों में से एक आदिल शेख है। यह शोपियां का ही रहने वाला था। डीजीपी ने बताया कि यह जम्मू-कश्मीर पुलिस में एसपीओ के पद पर भी रह चुका था। जहां से भाग कर यह आतंकी संगठन हिजबुल में शामिल हो गया था। इसने 29 सितंबर 2018 को जवाहर नगर श्रीनगर से पीडीपी के तत्कालीन विधायक अजाज मीर के घर से 8 हथियार लूटे थे। दूसरा आतंकी वसीम वानी है। यह भी शोपियां का ही रहने वाला था। तीसरे आतंकी की पहचान जहांगीर मलिक के रूप में हुई है। वह पुलवामा जिले के अचेन इलाके का रहने वाला था।

वहीं हाल ही में आतंकियों संग पकड़े गए डीएसपी दविंदर के मामले पर डीजीपी ने कहा कि डीएसपी दविंदर सिंह का बांग्लादेश दौरा हमारी जानकारी में आया है। दविंदर की बेटियों की बांग्लादेश में पढ़ाई हुई थी। उनकी मुलाकात केवल बेटियों तक सीमित थी या किसी अन्य मामले से इसके तार जुड़े हैं, इस संबंध में जांच की जा रही है।

डीएसपी दविंदर सिंह के बांग्लादेश दौरे पर उन्होंने कहा कि यह हमारी जानकारी में आया है कि उनकी बेटियों की बांग्लादेश में पढ़ाई हुई थी। उनकी मुलाकात केवल बेटियों तक सीमित थी या किसी अन्य मामले से इसके तार जुड़े हैं, इस संबंध में जांच की जा रही है।