डीजीपी दिलबाग सिंह ने कहा- जम्मू-कश्मीर में हालात बिगाड़ने का हर मौका तलाश रहे आतंकी

जम्मू कश्मीर पुलिस के महानिदेशक दिलबाग सिंह ने कहा कि पुलवामा में हिजबुल मुजाहिदीन और जैश-ए-मुहम्मद का आत्मघाती वाहन से हमला करने की साजिश नाकाम करना सुरक्षाबलों के लिए बड़ी कामयाबी है। इस घटना से पता चलता है कि आतंकी हालात बिगाड़ने का हर मौका तलाश रहे हैं।

वीरवार को दिलबाग सिंह ने कहा कि सुबह राजपोरा पुलवामा में जिस साजिश को नाकाम बनाया है वह हालात बिगाड़ने के लिए सरहद पार से बड़े पैमाने पर आतंकियों की घुसपैठ की पाक साजिश का हिस्सा हो सकता है। नियंत्रण रेखा और अंतरराष्ट्रीय सीमा पर घुसपैठ की कोशिशों में बढ़ोतरी की आशंका जताते हुए उन्होंने कहा कि घाटी में सक्रिय आतंकी संगठनों के सभी प्रमुख कमांडर मारे जा चुके हैं। स्थानीय स्तर पर नए लड़कों की आतंकी संगठनों में भर्ती में कमी आई है। इससे आतंकी संगठनों के सरगना और पाकिस्तानी एजेंसियां हताश हैं। वह जम्मू कश्मीर में आतंकियों की ज्यादा से ज्यादा घुसपैठ कराने का प्रयास कर रहे हैं। डीजीपी ने बताया कि सामान्य परिस्थितियों में एलओसी पर गुलाम कश्मीर की तरफ से घुसपैठ के प्रयास अप्रैल के दूसरे पखवाड़े में शुरू होते रहे हैं। आतंकी संगठन और उनके आका बर्फ पिघलने का इंतजार करते हैं। कभी कभार ही सर्दियों में आतंकी घुसपैठ का प्रयास करते हैं।