गृह मंत्रालय का बड़ा ऐलान, कश्मीर में तैनात केंद्रीय बलों को मिलेगा दोगुना HRA

केंद्र सरकार ने कश्मीर घाटी में पोस्टेड केंद्रीय सुरक्षा बलों के उन जवानों को डबल ‘हाउस रेंट अलाउंस’ (HRA) देने का फैसला लिया है, जिनके परिवार अभी तक उनकी पहले हुई तैनाती वाली लोकेशन पर ही हैं। ऐसे जवानों को उनकी बेसिक सेलरी का 16 प्रतिशत अतिरिक्त HRA मिलेगा। इतना ही नहीं, वर्तमान समय में ये जवान कश्मीर घाटी में जहां भी पोस्टेड हैं, वहां के हिसाब से जो HRA दिया जाता है, वह भी इन्हें मिलता रहेगा।

मतलब ये जवान डबल HRA के हकदार होंगे। यह अतिरिक्त एचआरए 31 दिसंबर तक लिया जा सकेगा। इसके बाद यह योजना अपने आप ही आगे के लिए रिन्यू हो जाएगी। इसके लिए गृह मंत्रालय अलग से नए आदेश जारी नहीं करेगा। इसी वर्ष फरवरी में पुलवामा में CRPF पर हुए आतंकवादी हमले के एक हफ्ते बाद गृह मंत्रालय ने जोखिम और कठिनाई भत्ते बढ़ाए थे। इससे निचले स्तर के अधिकारियों का भत्ता विशेष लाभ के साथ प्रतिमाह 7,600 रुपये और उच्च अधिकारियों के भत्ते में 8,100 रुपये तक की वृद्धि हुई थी।

इंस्पेक्टर रैंक तक भत्ते को 9,700 रुपये से बढ़ाकर 17,300 रुपये, जबकि अन्य अफसरों का भत्ता 16,900 रुपये से बढ़ाकर 25,000 रुपये कर दिया गया था। यह बढ़ा हुआ भत्ता जम्मू कश्मीर तथा नक्सल प्रभावित इलाकों में तैनात सभी अर्द्धसैनिकों पर लागू करने की बात कही गई थी।