Coronavirus: कश्मीर में हैंड सैनिटाइज़र में अल्कोहल की जगह थिनर का हो रहा था इस्तेमाल, ड्रग कंट्रोल विभाग ने मारा छापा

जहां पूरी दुनिया में कोरोना वायरस से लड़ने के लिए लोग हर हद पार कर रहे हैं, वही कुछ लालची और इंसानियत के दुश्मन इस मुश्किल वक्त में भी लोगों को लूटने से नहीं चूक रहे. मामला जम्मू कश्मीर के गंदेरबल जिले का है, जहां नकली सैनिटाइज़र बनाने वाली एक फैक्ट्री का भंडाफोड़ हुआ है.

कोरोनो वायरस के संक्रम की खबरें फैलते ही बाजारों में फेस मास्क और हैण्ड सैनिटाइज़र की मांग कई गुना बढ़ गई है. इसी बड़ी मांग का फायदा उठाने के लिए इंसानियत के कुछ दुश्मनों ने कश्मीर घाटी में घिनौना काम किया.

मामला तब सामने आया जब श्रीनगर के बाजारों में कई नामी ब्रांड के हैण्ड सैनिटाइज़र के बारे में ड्रग कंट्रोल विभाग के पास शिकायते आनी शुरू हुईं. पहले तो श्रीनगर के बाजारों से दवा और प्रोविजिनल स्टोर से इन सैनिटाइज़र के नमूने उठाये गए.

जांच में चौंका देने वाले तथ्य सामने आए. इन नकली सैनिटाइज़र में अल्कोहल की जगह पेंट में काम आने वाले थिनर का प्रयोग हो रहा था. थिनर एक ज़हरीला प्रदार्थ है और ये स्किन एलर्जी का भी कारण है.

ड्रग कंट्रोल विभाग के अफसरों के अनुसार, इसके बाद जुटाई जानकारी के आधार पर गंदेरबल के नागबल इलाके में किराए के एक कमरे पर छापा मारा गया और बड़ी मात्रा में इस गोरख-धंधे में काम आने वाले पदार्थों के साथ-साथ बाज़ार में बिक्री के लिए तैयार माल भी कब्ज़े में लिया गया.

कश्मीर के डिप्टी ड्रग कंट्रोलर मोहम्मद यूनुस इस कार्रवाई की अगुवाई कर रहे थे. उनके अनुसार इस नकली सेनिटाइज़र में पेंट थिनर, ग्लिसरीन और लेमन एस्सेंस का इस्तेमाल करके यह पदार्थ बनाया जाता था. जब कि पेंट में काम आने वाले थिनर को श्रीनगर की एक पेंट फैक्ट्री से खरीदकर लाया गया था.

आम लोगों ने ड्रग कंट्रोल विभाग के इस काम कि सराहना करते हुए, दोषियों के खिलाफ कड़ी करवाई की मांग की है. लोगों के अनुसार इस तरह कि विपरीत परिस्थितियों में जब हर कोई इस कठोर बीमारी से बचाव में लगा हुआ है, कुछ लालची लोग आम लोगों की ज़िन्दगी के साथ खेल रहे हैं.

मामला सामने आने के बाद प्रशासन ने लोगों को सतर्कता बरतने की सलाह देते हुए किसी भी तरह का शक होने पर तुरंत शिकायत करने को कहा है. ताकि कोरोना महामारी के खिलाफ जंग में कोई कमी ना रह जाए. इस मामले में अभी भी कई जगहों पर छापेमारी जारी है और कई और लोगों की गिरफ्तारी भी मुमकिन है.