भगवान राम पूरे विश्व के तो मंदिर अयोध्या में ही क्यों : फारूक अब्दुल्ला

राम मंदिर नेताओं के बयान बाजी का सिलसिला थमने का नाम नही ले रहा है. भाजपा नेताओं के बाद जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉन्फ्रेंस के मुखिया फारूक अब्दुल्ला का मामले पर बयान आया है. अब्दुल्ला ने कहा कि जब राम पूरे विश्व के है तो मंदिर सिर्फ अयोध्या में क्यों चाहिए.

फ़ारूक़ ने ये बात सोमवार को कांग्रेस नेता मनीष तिवारी की किताब ‘फेब्लस आफ फ्रेक्चरर्ड टाइम्स’ के लॉन्च के मौके पर कही है. फारुख अब्दुल्ला ने राम मंदिर बनाने पर सवाल खड़े करते हुए कहा है कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण क्यों होना चाहिए जबकि राम सर्वव्याप्त हैं और पूरी दुनिया के भगवान हैं.

फारूक अब्दुल्ला ने आगे कहा कि वो इस मामले में कोर्ट का आदेश मानेंगे, उन्होंने सत्तारूढ़ दल पर आरोप लगाया कि वो लोकतंत्र में सुप्रीम कोर्ट को दरकिनार करना चाहते है.

जेडीयू नेता पवन वर्मा ने जब फारुख अब्दुल्ला की बात का विरोध करते हुए सवाल खड़ा किया है कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण क्यों नहीं होना चाहिए. उन्होंने कहा कि ”अगर हिंदू वहां मंदिर चाहते हैं तो वहां मंदिर बनना चाहिए. सवाल ये नहीं है कि क्या मंदिर बनना चाहिए, सवाल ये हैं कि ये कैसे बनेगा. हिंसा से, आपकी सहमति से या कोर्ट के आदेश से.”