फारूक अब्दुल्ला के भाई और बहन रिहा, 370 हटने के बाद से थे नजरबंद

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला के भाई मुस्तफा कमाल और बहन खालिदा को रिहा कर दिया गया है. अनुच्छेद 370 हटने के बाद दोनों को नजरबंद किया गया था. हालांकि, अभी फारूक अब्दुल्ला और उनके बेटे उमर अब्दुल्ला नजरबंद ही हैं.

मिली जानकारी के मुताबिक घाटी के शीर्ष नेताओं की नजरबंदी तब तक जारी रहेगी, जब तक कश्मीर में हालात सामान्य नहीं हो जाते हैं.

सिविल सोसायटी की कुछ प्रमुख महिला सदस्यों ने जम्मू एवं कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाने के विरोध में प्रदर्शन किया था. रेसिडेंसी रोड स्थित प्रेस इंक्लेव एरिया में शांतिपूर्ण प्रदर्शन के दौरान कुछ लोगों को हिरासत में भी लिया गया था.

Assembly Election Results LIVE: महाराष्ट्र के रुझानों में BJP को बढ़त, लेकिन हरियाणा में कांग्रेस से कड़ी टक्कर

प्रदर्शन में जम्मू एवं कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. फारूक अब्दुल्ला की बहन सुरैया अब्दुल्ला, उनकी बेटी साफिया अब्दुल्ला, जम्मू एवं कश्मीर के पूर्व मुख्य न्यायाधीश बशीर अहमद खान की पत्नी हवा बशीर और अन्य प्रमुख महिलाएं शामिल थी.

इसी के बाद उमर अब्दुल्ला की बहन को हिरासत में लिया गया था साथ ही कुछ लोगों को नजरबंद किया गया था.