कोरोना का असर: जम्मू-कश्मीर के मुफ्ती ने की अपील- ‘मस्जिदों में आज न हो जुमे की नमाज’

देश में कोरोना के प्रभाव को देखते हुए अलग-अलग राज्यों में जुमे और सामूहिक नमाज पर रोक लगाने का ऐलान किया है। इस बीच जम्मू-कश्मीर के ग्रैंड मुफ्ती ने भी मस्जिद में जुमे की नमाज न पढ़ने की अपील की है। कश्मीर के ग्रैंड मुफ्ती नसीरुल इस्लाम ने आह्वान किया कि कोरोना वायरस के प्रभाव को देखते हुए किसी भी मस्जिद में जुमे की नमाज अदा नहीं होनी चाहिए। बता दें कि जम्मू-कश्मीर में कोरोना वायरस से पहली मौत का मामला सामने आया है।

मुफ्ती नसीरुल ने कहा, ‘मैं इमाम, खतीब और मस्जिद की देखरेख करने वाले सभी लोगों से अपील करता हूं कि मस्जिदों में जुमे की नमाज अदा न कराई जाए।’ उन्होंने कहा कि मस्जिद के इमाम समेत सिर्फ तीन लोगों को ही पांच बार नमाज अदा करनी चाहिए। बाकी लोग घरों में नमाज पढ़ें। इससे पहले श्रीनगर के डीसी शाहिद चौधरी ने बताया, ‘मैनेजमेंट कमिटी के सक्रिय सहयोग सभी धार्मिक स्थलों को बंद करने का काम जारी है।’