J&K: पीडीपी ने बेग को बनाया पार्टी का संरक्षक, नाराजगी दूर करने के लिए सौंपा यह महत्वपूर्ण पद

पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) ने वरिष्ठ नेता और बारामुला से लोकसभा सदस्य मुजफ्फर हुसैन बेग को पार्टी का संरक्षक नियुक्त किया है। पीडीपी की ओर से मंगलवार को ट्वीट कर इसकी जानकारी दी गई। पीडीपी ने ट्वीट किया कि कार्यकर्ताओं, नेताओं और पार्टी के सभी पदाधिकारियों की ओर से हम मुजफ्फर हुसैन बेग को बधाई देते हैं क्योंकि वह हमारी पार्टी के संरक्षक नियुक्त किए गए हैं। इससे पहले यह पद हमारे प्यारे नेता जनाब मुफ्ती मोहम्मद सईद साहब के पास था।

पार्टी से चार पूर्व विधायकों-इमरान रजा अंसारी, डॉ. हसीब द्राबू, आबिद अंसारी व मोहम्मद अब्बास वानी के इस्तीफे के बाद तथा पार्टी में उपजे असंतोष को शांत करने के लिए यह पद बेग को सौंपा गया है। पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती के आवास पर सोमवार को चली लंबी बैठक के बाद उन्हें पार्टी का संरक्षक नियुक्त किया गया। माना जा रहा है कि नाराज चल रहे बेग को मनाने के लिए यह पद सौंपा गया है।

उन्होंने 20 नवंबर को पार्टी नेतृत्व के खिलाफ सार्वजनिक रूप से बयानबाजी करते हुए कहा था कि पीडीपी ने निगम चुनाव का बहिष्कार कर पार्टी कार्यकर्ताओं को लोगों से जुड़ने के मौके से वंचित कर दिया। उनके साथ विश्वासघात किया। उसने एक खाली जगह छोड़ दी और अब वह जगह भर गई है। राजनीति उन लोगों का इंतजार नहीं करती जो बहिष्कार करते हैं।

उन्होंने सज्जाद लोन के नेतृत्व में घाटी में थर्ड फ्रंट के उभरने को समर्थन और वक्त की जरूरत बताया था। उन्होंने यहां तक कहा था कि उन्हें थर्ड फ्रंट का दामन थामने से भी कोई परहेज नहीं है। उनके बयान के बाद से ही पार्टी में इस बात की चर्चा होने लगी थी कि यदि संस्थापक रहे बेग ने पार्टी छोड़ी तो एक बड़ा धड़ा अलग हो सकता है।

इस वजह से उन्हें मनाने का सिलसिला शुरू हुआ और सोमवार को महबूबा उन्हें मनाने में सफल रहीं। श्रीनगर में पार्टी की बैठक में दोनों ने संयुक्त रूप से अध्यक्षता की। फोटो के साथ इसे ट्वीट कर ज्यादा लोगों तक पहुंचाने की कोशिश की गई।