जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग आंशिक रूप से खुला

जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर वाहनों की आवाजाही रविवार को आंशिक तौर पर बहाल कर दी गई। एक दिन पहले भारी बर्फबारी के कारण मार्ग पर यातायात बाधित हो गया था। यातायात विभाग के अधिकारी ने यह जानकारी दी।

जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग जम्मू कश्मीर को देश के बाकी हिस्सों से जोड़ने वाला हर मौसम का एकमात्र सम्पर्क मार्ग है। अधिकारी ने बताया कि मौसम में सुधार देखते हुए और मार्ग से बर्फ हटाने के बाद जम्मू से श्रीनगर की ओर एक तरफ से यातायात की अनुमति दे दी गई है। अधिकारियों ने कहा कि श्रीनगर हवाई अड्डा पर विमानों का परिचालन भी रविवार को बहाल हो गया। बर्फबारी के कारण विमानों का परिचालन दो दिन पहले तक प्रभावित रहा।

शनिवार को घाटी के मैदानी इलाकों में हालिया वर्ष में भारी बर्फबारी देखी गई, जिससे धरातल से लेकर हवाई यातायात प्रभावित हुआ। शुक्रवार दोपहर से शनिवार सुबह तक हुई बर्फबारी से समूचे कश्मीर में जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया। घाटी में अधिकतर स्थानों में मौसम शनिवार रात को शुष्क रहा, लेकिन आसमान साफ रहने के कारण रात का तापमान जमाव बिंदु से नीचे बना रहा।

मौसम विज्ञान विभाग के अधिकारी ने बताया कि जम्मू कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में शनिवार रात को न्यूनतम तापमान शून्य से 1.2 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। उन्होंने कहा कि काजीगुंड में न्यूनतम तापमान शून्य से 0.6 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया, जबकि कोकेरनाग में यह शून्य से 2.2 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। उत्तर कश्मीर के कुपवाड़ा शहर में न्यूनतम पारा शून्य से 4.2 डिग्री सेल्सियस नीचे रहा। पहलगाम में न्यूनतम तापमान शून्य से 7.9 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया, जबकि गुलमर्ग में न्यूनतम तापमान शून्य से 9 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया, जो राज्य में सबसे ठंडा स्थान रहा। मौसम विभाग ने गुरुवार तक समूचे कश्मीर में अधिकतर शुष्क मौसम रहने का पूर्वानुमान जताया है।