जम्मू-कश्मीर में सेना की बड़ी कामयाबी, पिछले 24 घंटे में 9 आतंकियों को मार गिराया

कोरोना लॉकडाउन में भी जम्मू-कश्मीर में सेना का आतंकियों के खिलाफ सफाई अभियान जारी है। पिछले 24 घंटों में भारतीय सेना ने कश्मीर घाटी में 9 आतंकियों को मार गिराया है। साउथ कश्मीर में बटपुरा में जहां कल 4 आतंकियों को मार गिराया गया, वहीं केरन सेक्टर में एलओसी के पास 5 आतंकियों को ढेर कर दिया गया। ये सभी आतंकी केरन सेक्टर से घुसपैठ की कोशिश कर रहे थे। यह जानकारी सेना के सूत्रों ने दी।

समचाार एजेंसी ने सेना के सूत्रों के हवाले से बताया कि आतंकियों के खिलाफ इस अभियान में सेना का एक जवान भी शहीद हुआ है और दो अन्य गंभीर रूप से घायल हुए हैं। हालांकि, आतंकियों के खात्मे के लिए ऑपरेशन अब भी जारी है।

दरअसल, शनिवार को जम्मू-कश्मीर के कुलगाम जिले में सुरक्षाबलों ने हिजबुल मुजाहिदीन के चार आतंकवादियों को मार गिराया। बताया जा रहा है कि कुलगाम के गांव हरमंदंद गुरी में हुई मुठभेड़ में भारतीय सेना के दो जवान भी घायल हो गए। पिछले 12 दिनों से आतंकवादियों का एक हिजबुल मुजाहिदीन समूह नागरिकों को मार रहा था। पुलिस हिजबुल मुजाहिदीन के चार आतंकियों को ट्रैक किया और शनिवार की सुबह एक ऑपरेशन चलाकर उन्हें मार गिराया गया।

बता दें कि इससे पहले शुक्रवार को सुरक्षा बलों ने जम्मू-कश्मीर के सोपोर और हंदवारा इलाके से आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के चार सक्रिय सदस्यों को गिरफ्तार किया था। उन्होंने बताया कि आतंकियों की मौजूदगी की सूचना मिलने पर गुरुवार रात को कुपवाड़ा जिला अंतर्गत हंदवारा इलाके के शालपोरा गांव में सर्च ऑपरेशन चलाया गया। इस दौरान लश्कर के दो सक्रिय सदस्यों को गिरफ्तार किया गया।अधिकारियों ने कहा कि इनकी पहचान आजाद अहमद भट और अल्ताफ अहमद बाबा के रूप में हुई और इनके कब्जे से दो पिस्तौल और दो हथगोले बरामद किए गए।

इसके पहले सुरक्षा बलों ने बृहस्पतिवार शाम को भी बारामुला जिले के सोपोर इलाके से दो अन्य वसीम अहमद और जुनैद राशिद गनी को सादिक कॉलोनी सुरक्षा चौकी के पास जांच अभियान के दौरान गिरफ्तार किया। इनके कब्जे से भी हथियार बरामद किए गए हैं। अधिकारियों ने बताया कि गिरफ्तार सदस्यों पर संबंधित थानों में मुकदमे दर्ज किए गए हैं।