लेह रिश्वत मामला : भाजपा की आंतरिक जांच पूरी, जल्द सौंपी जाएगी रिपोर्ट

 संसदीय चुनाव को प्रभावित करने के लिए भाजपा के सदस्यों द्वारा रिश्वत की पेशकश किये जाने के आरोपों की जांच के लिए पार्टी की आंतरिक जांच करने वाले चार सदस्यीय आयोग ने अपनी जांच पूरी कर ली है । भाजपा के सूत्रों ने पीटीआई-भाषा को बताया कि न्यायमूर्ति (सेवानिवृत्त) जी डी शर्मा की अध्यक्षता वाले आयोग के सदस्य लेह से लौट आए हैं। आयोग के अन्य सदस्यों में पूर्व आईपीएस अधिकारी एस एसबिजराल, डॉ पल्लव शर्मा और वकील ताशी ग्यालसन भी हैं। प्रेस क्लब, लेह ने चार मई को आरोप लगाया था कि भाजपा उसके सदस्यों को धन वाले लिफाफे की पेशकश कर रिश्वत देने के प्रयास कर रही है। पार्टी ने इन आरोपों को खारिज किया था और कहा था कि आरोप ‘‘राजनीति से प्रेरित’’ हैं । सूत्रों ने बताया कि तथ्यान्वेषी आयोग ने पत्रकारों, प्रेस क्लब, लेह से जुड़े लोगों, स्थानीय नेताओं के बयान रिकार्ड किए और सीसीटीवी फुटेज का परीक्षण किया । रिश्वत की पेशकश के मामले में भाजपा नेता और विधान पार्षद विक्रम रंधावा के खिलाफ लेह में पुलिस ने नौ मई को प्राथमिकी दर्ज की थी ।