जम्मू-कश्मीर में हमारे अभियान पेशेवर व समर्पित तरीके से चल रहे हैं: सेना

 सेना ने गुरुवार को कहा कि जम्मू-कश्मीर में उसका अभियान पेशेवर और समर्पित तरीके से चलाया जा रहा है और सुरक्षा बल के पास एक आचार संहिता है जिसमें मानवीय गरिमा को महत्व दिया गया है। सेना के उत्तरी कमान के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग जिले के वुजूर में एक समारोह से इतर संवाददाताओं से कहा, ‘‘हमारे पास एक बहुत ही मजबूत आचार संहिता है जो मानवीय गरिमा और समाज के मूल्यों को महत्व देती है। इसलिए मैं आपको आश्वस्त करना चाहता हूं कि जम्मू-कश्मीर में सेना द्वारा चलाए जा रहे सभी अभियानों को पेशेवर और समर्पित तरीके से चलाया जा रहा है।’’ एक सवाल के जवाब में सेना के कमांडर ने कहा, ’’जहां भी कार्रवाई की जाती है, उन्हें उचित ढंग से किया जाता है।’’ लेफ्टिनेंट जनरल सिंह आर्मी गुडविल स्कूल, वुजूर में थे, जिसका नाम बदलकर लांस नायक नज़ीर अहमद वानी के नाम पर रखा गया, जिन्हें इस साल जनवरी में मरणोपरांत अशोक चक्र से सम्मानित किया गया था। वानी 25 नवंबर, 2018 को कुलगाम जिले के बटागुंड में एक आतंक-रोधी अभियान में शहीद हो गये थे। अभियान में छह आतंकवादियों को मार गिराया गया था। उन्होंने कहा, ‘‘कश्मीर के बच्चे हमारी उम्मीद हैं। हमें यकीन है कि आने वाले समय में वे कड़ी मेहनत करेंगे। उनके पास काफी क्षमता है और वे समाज के महत्वपूर्ण सदस्य बनेंगे और हमें विकास और समृद्धि के उस पथ पर आगे ले जाएंगे, जो कश्मीर और राष्ट्र दोनों से जुड़ा हुआ है।’’