जम्‍मू-कश्‍मीर में सोमवार से शुरू होगी मोबाइल पोस्‍ट पेड सेवा

जम्‍मू-कश्‍मीर में हालात धीरे-धीरे सामान्य हो रहे हैं और राज्य प्रशासन ने सोमवार से पोस्टपेड मोबाइल सेवा बहाल करने का फैसला किया है। सोमवार दोपहर 12 बजे से राज्‍य में पोस्टपेड मोबाइल सेवा शुरू होगी। राज्‍य में अनुच्‍छेद 370 के ज्‍यादातर प्रावधानों और 35A को खत्‍म किए जाने के बाद मोबाइल और इंटरनेट सेवाओं को बंद कर दिया गया था। जम्‍मू-कश्‍मीर में हालात के तेजी से सामान्‍य की ओर बढ़ने पर राज्‍य प्रशासन ने पोस्‍टपेड मोबाइल सेवा बहाल करने का फैसला किया है।

जम्मू-कश्मीर के प्रधान सचिव रोहित कंसल ने श्रीनगर में शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मोबाइल सेवाएं चालू करने का ऐलान किया। इस तरह 5 अगस्त को 370 हटाने का फैसला लिए जाने के इतने दिन बाद मोबाइल सेवा बहाल होने जा रही है। सूत्रों ने कहा कि राज्य में पोस्टपेड सेवाओं पर रोक को अभी हटाया जा रहा है और प्रीपेड सेवा पर फैसला बाद में होगा। पोस्टपेड मोबाइल पर कॉलिंग की सुविधा फिलहाल मिलेगी, लेकिन मोबाइल इंटरनेट के लिए कुछ और दिन इंतजार करना पड़ सकता है।

कश्मीर घाटी में करीब 66 लाख मोबाइल धारक है, जिनमें से करीब 40 लाख लोग पोस्टपेड मोबाइल यूजर हैं। बता दें कि हाल ही में सरकार ने पर्यटकों की आवाजाही पर लगी रोक को भी हटा लिया था। अधिकारियों ने कहा कि फैसला किया गया है कि आरंभ में पोस्ट पेड मोबाइल सेवा बहाल की जाएगी और प्रीपेड सेवा बाद में शुरू की जाएगी। उन्होंने जोर दिया कि पोस्ट पेड मोबाइल सेवा के लिए उपभोक्ताओं को जरूरी वेरिफिकेशन भी कराना होगा।

जम्मू में पहले ही बहाल कर दी गई थीं सेवाएं
पर्यटन से जुड़े संगठनों ने प्रशासन से अनुरोध कर कहा था कि मोबाइल फोन काम नहीं करेंगे तो कोई भी पर्यटक घाटी नहीं आना चाहेगा। लैंडलाइन सेवा आंशिक तौर पर 17 अगस्त को बहाल की गई थी और चार सितंबर तक करीब सभी 50,000 लैंडलाइनों को बहाल करने की घोषणा की गई। जम्मू में संचार-व्यवस्था कुछ दिन के भीतर ही बहाल कर दी गई थी और मोबाइल इंटरनेट सेवा भी मध्य अगस्त में चालू कर दी गई। हालांकि, दुरुपयोग के बाद मोबाइल फोन पर इंटरनेट सेवा 18 अगस्त को रोक दी गई थी।