उमर अब्दुल्ला-महबूबा मुफ्ती के बाद पूर्व IAS और जम्मू-कश्मीर के नेता शाह फैसल पर भी लगा PSA

भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) के 2011 बैच के टॉपर और जम्मू-कश्मीर पीपुल्स मूवमेंट के संस्थापक शाह फैसल (Shah Faesal) पर भी पब्लिक सेफ्टी एक्ट (Public Safety Act) लगा दिया गया है. शाह फैसल पर किन आरोपों के तहत PSA लगाया गया है, अभी इसकी पुष्टि नहीं हो पाई है. फैसल को पिछले साल अगस्त में दिल्ली एयरपोर्ट से हिरासत में लिया गया था. वह दिल्ली से इस्तांबुल जा रहे थे. जिसके बाद उन्हें दिल्ली से श्रीनगर लाया गया और उन्हें उनके घर में नजरबंद कर दिया गया. जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 खत्म किए जाने के बाद फैसल को उनके एक ट्वीट की वजह से हिरासत में लिया गया था. उन्होंने ट्वीट किया था, ‘राजनीतिक अधिकारों को फिर से पाने के लिए कश्मीर को लंबे, निरंतर और अहिंसक राजनीतिक आंदोलन की जरूरत है.’

पिछले साल 5 अगस्त को जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 खत्म कर दिया गया था. इसके बाद घाटी के तमाम दिग्गज नेताओं को उनके घरों में ही नजरबंद कर दिया गया. शाह फैसल ने एक फेसबुक पोस्ट में केंद्र सरकार की आलोचना करते हुए लिखा था, ‘घाटी में पुलिस की कार्रवाई से करीब 80 लाख लोग बंदी के समान रहने को मजबूर हो गए हैं. राज्य में इस तरह के हालात पहले कभी नहीं थे. जीरो ब्रिज से एयरपोर्ट तक कुछ ही वाहन दिख रहे हैं. सभी जगहें पूरी तरह से बंद हैं. मरीजों को छोड़कर किसी को भी आने-जाने की अनुमति नहीं दी जा रही है.’