नन्ही कली के लिए इंसाफ़ की मांग करती J&K की स्कूली बच्चियां

जम्मू-कश्मीर के बांदीपोरा जिले में एक तीन साल की मासूम बच्ची के साथ हुए दुष्कर्म पर गुस्साए स्कूली बच्चियों ने सड़क पर उतरकर प्रदर्शन किया. न्याय की गुहार लगाती इन बच्चियों ने दुष्कर्म के अपराधी को फांसी पर लटकाने की मांग की है. कारगिल के लाल चौक पर इकट्ठा होकर इन छात्रों ने जमकर नारेबाजी की.

हाथों में इंसाफ की मांग का तख़्ती थी और दिल में उस हैवान के लिए गुस्सा था जो ज़ुबानी भाषा में नन्ही कली के इंकलाब की मांग कर रहा है सड़क पर इंसाफ की मांग करती ये बच्चियां ना सिर्फ देश का मुस्तकबिल हैं बल्कि ये जड़ें हैं उस बुनियाद की जिन्हें हवस के दरिन्दे खोखला कर देना चाहते हैं लेकिन इन बच्चियों का हौसला देखिये जो लगातार उस लिए आवाज उठा रही हैं की फिर कोई हैवान मासूमियत को कुचलने में कामियाब ना हों और अगली बार कोई आइमा या आसिफा इनका शिकार ना बने
गवर्नमेंट हायर सेकेंडरी स्कूल कारगिल के हजारों छात्रों ने सुंबल बांदीपोरा बलात्कार की घटना के खिलाफ प्रदर्शन किया। इसके साथ ही उनका कहना था कि इस तरह के जघन्य अपराध दोबारा न हों इसलिए  लिए वे हमेशा आवाज उठाते रहेंगे. वहीं दूसरी तरफ आसिफा मामले का जिक्र करते हुए मामले की सुनवाई  जल्द से जल्द पूरी करने की मांग की. जिससे न सिर्फ दोषियों को जल्द से जल्द सजा मिलेगी बल्कि लोगों का भरोसा न्यायपालिका पर बना रहेगा.
आपको बता दें कि सुंबल में मासूम बच्ची के साथ हुई इस वारदात के बाद बांदीपोरा जिले में तनाव की स्थिति बनी हुई है. जिसके चलते इलाक़े में सुरक्षाबलों  की तादात बढ़ा दी गई है. इस मामले में आरोपी युवक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और पूछताछ में जुटी हुई है. बताया जा रहा है कि आरोपी शख्स पीडिता को टॉफी देने के बहाने  बहला फुसलाकर  एकांत में ले गया, जहां उसने इस घिनौने काम को अंजाम दिया. इस घटना का खुलासा होने के बाद गांव वालों ने खुद आरोपी को पुलिस के हवाले कर दिया था. जिसके बाद पुलिस ने आरोपी के खिलाफ आरपीसी और पोक्सो के तहत केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है.