जम्मू-कश्मीर: अवंतीपोरा में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़, तीन आतंकी ढेर

दक्षिणी कश्मीर के पुलवामा जिले में चार घंटे चली मुठभेड़ में आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के तीन दहशतगर्दों को सुरक्षा बलों ने मार गिराया। मारे गए आतंकियों की शिनाख्त नावेद टाक, हामिद लोन उर्फ हामिद ललहारी और जुनैद भट्ट के तौर पर हुई है। इनसे भारी मात्रा में हथियार और गोला बारूद बरामद किया गया है। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। हामिद ललहारी आतंकी संगठन अंसार गजावत उल हिंद का कमांडर था, जो जाकिर मूसा के बाद संगठन का नया मुखिया बनाया गया था। 

सुरक्षा बलों को पुलवामा जिले के अवंतीपोरा इलाके के राजपोरा गांव में एक मकान में आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली। इस सूचना के आधार पर सुरक्षा बलों ने पूरे इलाके की घेराबंदी कर घर-घर तलाशी अभियान शुरू कर दिया। घेरा सख्त होता देख इलाके में छिपे आतंकियों ने सुरक्षा बलों पर फायरिंग शुरू कर दी। सुरक्षा बलों ने इन्हें समर्पण करने के लिए कहा, लेकिन वे नहीं माने और सुरक्षा बलों पर लगातार फायरिंग करते रहे। इसके बाद जवाबी कार्रवाई से मुठभेड़ शुरू हो गई। रात लगभग आठ बजे तक चली मुठभेड़ में तीन आतंकियों को मारने में सफलता मिली। 

इससे पहले 16 अक्तूबर को अनंतनाग के बिजबिहाड़ा में सुरक्षा बलों ने लश्कर-ए-ताइबा के तीन स्थानीय आतंकियों को ढेर किया था। छह घंटे से अधिक समय तक चली इस मुठभेड़ में मारे गए तीनों आतंकी हाल ही में आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन छोड़कर लश्कर-ए-ताइबा में शामिल हुए थे। तीनों पिछले करीब दो वर्षों से इलाके में सक्रिय थे।