जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर असैन्य यातायात निलंबित

जम्मू कश्मीर में 270 किलोमीटर लंबे जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर सुरक्षा काफिले के सुचारू आवागमन और भूस्खलनों से क्षतिग्रस्त हुई सड़कों की मरम्मत के लिए असैन्य यातायात सोमवार को निलंबित कर दिया गया।

यातायात विभाग के एक अधिकारी ने बताया, ‘‘सुरक्षा काफिले के सुचारू आवागमन और रामबन सेक्टर में हाल में हुए भूस्खलनों से क्षतिग्रस्त हुई सड़कों की मरम्मत के लिए आज सुबह श्रीनगर या जम्मू की ओर से राजमार्ग पर किसी वाहन को आने नहीं दिया जाएगा।’’

उन्होंने बताया कि सुरक्षा काफिले राजमार्ग के दोनों ओर से गुजरेंगे और उनकी यात्रा शाम चार बजे तक पूरी होने की संभावना है जिसके बाद ही असैन्य यातायात बहाल किया जाएगा।

इस बीच, लद्दाख को कश्मीर से जोड़ने वाले 434 किलोमीटर लंबे श्रीनगर-लेह राष्ट्रीय राजमार्ग को खोलने की कोशिशें की जा रही है।

जोजिला दर्रा और आसपास के इलाकों में भारी हिमपात के बाद 27 नवंबर को श्रीनगर-लेह राजमार्ग पर यातायात बंद कर दिया गया जबकि पीर की गली समेत ऊंचे इलाकों में भारी हिमपात के बाद छह नवंबर को मुगल रोड बंद कर दी गई।

अधिकारी ने बताया, ‘‘कई सप्ताह की मेहनत के बाद 26 नवंबर को मुगल रोड से बर्फ हटा दी गई लेकिन फिर से हिमपात होने से इसे फिर खोलने के प्रयास बाधित हुए।’’

दोनों सड़कें भारी हिमपात के कारण सर्दियों में बंद रहती हैं।