जम्मू कश्मीर से अतिरिक्त सुरक्षाबलों की वापसी शुरू, बड़ी संख्या में सैनिक फिलहाल मौजुद

Kashmir Update : Phone lines activated in valley

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कश्मीर में सुधरते हालात और प्रशासनिक पाबंदियों को हटाने के बाद जम्मू कश्मीर के विभिन्न हिस्सों में तैनात अतिरिक्त केंद्रीय अर्धसैनिकबलों को हटाने की प्रक्रिया भी शुरू कर दी है. बीते एक माह के दौरान सीआरपीएफ और बीएसएफ के करीब दो हजार जवानों व अधिकारियों को राज्य से बाहर भेज दिया गया है, जबकि अगले 30 दिनों में तीन हजार और जवान हटाए जा रहे हैं.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार पांच अगस्त को जम्मू कश्मीर पुनर्गठन अधिनियम 2019 को लागू करने से पहले केंद्र सरकार ने जम्मू कश्मीर में शांति व्यवस्था का माहौल बनाए रखने और किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिए जुलाई के अंतिम सप्ताह में केंद्रीय अर्धसैनिकबलों की अतिरिक्त टुकडि़यों की तैनाती शुरू की थी, जो चार अगस्त की रात तक चली.
किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना को रोकने के लिए केन्द्रिय गृह मंत्रालय ने सीआरपीएफ, एसएसबी, बीएसएफ, सीआइएसफ और आइटीबीपी समेत विभिन्न केंद्रीय अर्धसैनिकबलों के करीब 40 हजार जवान व अधिकारी जम्मू कश्मीर के विभिन्न हिस्सों में तैनात किए थे. अब हालात में बेहतरी को देखते हुए केंद्रीय अर्धसैनिकबलों की अतिरिक्त टुकडि़यों को हटाकर उन्हें उनके तैनाती के मूल स्थानों पर या देश के उन हिस्सों में भेजना शुरू कर दिया गया है, जहां उनकी जरूरत है.