कोरोना से लड़ने में जम्मू कश्मीर प्रशासन की मदद करेगी सेना, वायुसेना के विमान में आएगा ज़रूरी सामान

जम्मू कश्मीर में वायुसेना और सेना प्रांतीय प्रशासन के लिए मददगार बन कर सामने आई हैं. श्रीनगर प्रशासन के आग्रह पर वायु सेना ने विशेष विमान के ज़रिये सैनिटाइज़ेशन के लिए इस्तेमाल होने वाले केमिकल और अन्य सामान एयरलिफ्ट करने को मंज़ूरी दी है. कल वायु सेना के विशेष विमान के ज़रिये सामानों को एयरलिफ्ट किया जाएगा, जिसके लिए श्रीनगर के मेयर ने वायुसेना प्रमुख आर के एस भादौरिया को धन्यवाद दिया.

श्रीनगर के मेयर जुनैद मातू के अनुसार प्रशासन ने सेना की 15 कोर के GOC बीएस राजू से मदद मांगते हुए दिल्ली से कुछ ज़रूरी केमिकल लाने का आग्रह किया था और सेना ने तुरंत ही यह आग्रह वायु सेना के सामने रखा. इस केमिकल का इस्तेमाल नगर पालिका के कर्मचारी सफाई और सैनिटाइज़ेशन में करते हैं, जिसकी कमी हो गई है.

जिसके बाद वायु सेना ने बिना देर किए इस आग्रह को कबूलते हुए केमिकल लाने के लिए वायु सेना के Dornier विमान उपलब्ध करवाए. बुधवार को ये केमिकल श्रीनगर पहुंचाने के प्रबंध किए गए हैं. वायु सेना की तरफ से पहले चरण में 1000 लीटर केमिकल कश्मीर घाटी लाए जाएंगे और इसके बाद ज़रूरत पड़ने पर फिर से कसी भी मदद के लिए तयार हैं.

कश्मीर घाटी में कोरोना से लड़ी जानी वाली जंग में अब ज़रूरी सामान की कमी भी होने लगी है. जहाँ एक तरफ केमिकल सैनिटाइजर कम पड़ रहा है, तो वहीं अच्छी क्वालिटी के मास्क भी कम हो गए हैं. इसी को देखते हुए जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने एक लाख N-95 मास्क भी लाने का इन्तेज़ाम किया है.

जम्मू कश्मीर के मेडिकल एजुकेशन के कमिश्नर अतुल धुल्लू के अनुसार 40 हज़ार N-95 मास्क मंगवाए गए हैं, जबकि 60,000 और लाने की भी तैयारी है. लेकिन इसके आने में होने वाली देरी को देखते हुए ही अब सेना से मदद मांगी जा रही है और सेना ने भी हमेशा कि ही तरह बिना देर किए मदद का हाथ आगे बढ़ाया है.