लद्दाखः ‘चादर ट्रेक’ सैलानियों को बचाने के लिए उतरा सेना का हेलिकॉप्टर, रेस्क्यू जारी

लद्दाख में चादर ट्रेक के दौरान जांस्कर नदी में फंसे पर्यटकों के रेस्क्यू के लिए कई बचाव टीमों ने सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया है। लद्दाख प्रशासन के अनुरोध पर फायर ऐंड फ्यूरी कॉर्प्स ने पर्यटकों को बचाने के लिए तेजी से कदम उठाते हुए दो दिशाओं से राहत और बचाव अभियान की शुरुआत की है। इसके लिए सेना के हेलिकॉप्टरों को भी लगाया गया है और जरूरी मेडिकल सुविधाओं के साथ पर्यटकों को संकट से बाहर निकालने की कोशिश की जा रही है।
जांस्कर नदी इलाके के प्रतिकूल हालातों के बावजूद भारतीय सेना के हेलिकॉप्टर को निराक के पास लैंडिंग के लिए जगह ढूंढने में सफलता मिल गई है। हेलिकॉप्टर में बचाव दल के साथ सेना के एक डॉक्टर को भी शामिल किया गया है, ताकि जरूरत पड़ने पर पीड़ित सैलानियों को मेडिकल सुविधाएं उपलब्ध कराई जा सके। सेना के हेलिकॉप्टर में दवाइयों के अलावा आपातकालीन राशन और गर्म कपड़े भी रखे गए हैं।
6 गंभीर अस्वस्थ सैलानियों का इलाज
वहीं, इस बीच अधिक शीत से प्रभावित 6 गंभीर रूप से बीमार सैलानियों को सेना के हेलिकॉप्टर से लेह पहुंचाया गया, जहां आर्मी अस्पताल में उनका इलाज किया जा रहा है। बता दें कि सैलानी यहां चादर ट्रेक के वार्षिक आयोजन में शामिल होने आए थे। इस दौरान वे यहां फंस गए। बता दें कि चादर ट्रेक जमी हुई जांस्कर नदी पर 4-5 दिनों तक चलने वाला वार्षिक शीतकालीन कार्यक्रम है, जिसमें जमी हुई नदी पर ट्रेकिंग की जाती है।