पूर्वी लद्दाख के गैलवान घाटी में हिंसक झड़प, तीन भारतीय सैनिक शहीद, चीनी सैनिक भी मारे गए

भारत और चीन के बीच जारी सीमा विवाद को लेकर एक बेहद ही चौंकाने वाली खबर आई है. गैलवान घाटी में डी-एस्केलेशन प्रक्रिया के दौरान कल रात दोनों ही पक्षों के सैनिकों के बीच हिंसक झड़प हो गई. चीन के हमले में भारत के तीन सैनिक शहीद हो गए. शहीदों में एक अफसर और दो सैनिक शामिल हैं.

सेना ने एक संक्षिप्त बयान में कहा, गैलवान घाटी में तनाव कम करने की प्रक्रिया के दौरान सोमवार रात हिंसक टकराव हो गया. इस दौरान भारतीय सेना का एक अधिकारी और दो जवान शहीद हो गए.” गौरतलब है कि बीते पांच हफ्तों से गैलवान घाटी में बड़ी संख्या में भारतीय और चीनी सैनिक आमने-सामने खड़े थे. यह घटना भारतीय सेना प्रमुख जनरल एम एम नरवणे के उस बयान के कुछ दिन बाद हुई है, जिसमें उन्होंने कहा था कि दोनों देशों के सैनिक गैलवान घाटी से पीछे हट रहे हैं.

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने सीडीएस के साथ बैठक की

दोनों सेना के सीनियर अधिकारी स्थिति को शांत करने के लिए बैठक कर रहे हैं. खबरों के मुताबिक झड़प के दौरान चीन की सेना को भी काफी नुकसान हुआ है. चीन के साथ झड़प को लेकर रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत के साथ बैठक की है. बैठक में थलसेना प्रमुख और विदेश मंत्री भी शामिल थे.

बता दें कि चीन और भारत की सीमा पर गैलवान घाटी में कई दिनों से तनाव की खबर आ रही है. इसी बीच खबर आई थी कि चीन युद्धअभ्यास भी कर रहा है. जिसके जवाब में भारत ने लद्दाख सीमा पर युद्धाभ्यास करते सैनिकों का वीडियो शेयर किया था. गृह राज्यमंत्री जी कृष्णन रेड्डी ने अपने ट्वीटर एकाउंट पर भारतीय सेना का जो वीडियो शेयर किया था वो पिछले साल सितंबर महीने का है जब उत्तरी कमान ने लद्दाख से सटी चीन सीमा पर चांगथांग नाम का एक बड़ा युद्धभ्यास किया था. इस एक्सरसाइज से भारत ने पूरी दुनिया को बता दिया था कि चीन सीमा पर अब सिर्फ इंफेंट्री सैनिक ही तैनात नहीं होते बल्कि टैंक, मैकेनाइजड फोर्सेज़, यूएवी और पैरा कमांडो भी तैनात रहते हैं.