देश में घुसपैठ कर रहे 3 आतंकियों को मार गिराया था, कीर्ति चक्र से हुए सम्मानित

देश की रक्षा के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर करने वाले वीर सैनिकों को गुरुवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद नई दिल्ली में सम्मानित किया। इस दौरान पिछले साल मई में बॉर्डर पार कर कुपवाड़ा में घुसपैठ की कोशिश को नाकाम करते हुए तीन आतंकियों को ढेर करने वाले मेजर तुषार गौबा को कीर्ति चक्र से सम्मानित किया गया। वहीं थल सेना प्रमुख बिपिन रावत भी राष्ट्रपति के हाथों परम विशिष्ट सेवा मेडल से सम्मानित हुए।

नई दिल्ली में आयोजित इस खास कार्यक्रम में देश के लिए शहीद हुए वीर जवानों को भी इस मौके पर सम्मानित किया गया। फौजी ब्रह्मपाल सिंह, सीआरपीएफ जवान राजेंद्र नैन और बब्बन धानवडे को मरणोपरांत कीर्ति चक्र दिया गया। इसके अलावा सेना और सीआरपीएफ के कुल 12 अधिकारी और जवान को शौर्य चक्र से भी सम्मानित किए गए।

घुसपैठ कर रहे आतंकियों को किया था ढेर
बता दें कि पिछले साल 23 मई को 8 आतंकियों ने बॉर्डर पार कर कुपवाड़ा में घुसपैठ की कोशिश थी। इस दौरान 20 जाट रेजिमेंट के मेजर तुषार गौबा ने घात लगाकर उन्हें पकड़ने की योजना बनाई। इस दौरान दोनों तरफ से लगातार फायरिंग के बीच मेजर तुषार ने तीन आतंकियों को मार गिराया था।