नगरोटा आर्मी कैंप हमला: एनआईए ने मसूद अजहर के भाई सहित 13 के खिलाफ पेश की चार्जशीट

:राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने 2016 के नगरोटा आर्मी कैंप हमले के मामले में आतंकवादी अजहर मसूद के भाई मौलाना अब्दुल्ल रोफ असगर सहित 13 के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की है। असगर पाकिस्तान के जैश-ए-मोहम्मद आतंकी संगठन का डिप्टी चीफ है। यह चार्जशीट रनबीर पिनल कोड की धाराओं के तहत दर्ज की गई है। एनआईए ने जांच में पाया कि चार स्थानीय कश्मीरी आतंकियों के साथ मिलकर एक ग्रुप बनाया गया और उसी ग्रुप ने सैन्य शिविर पर हमला किया।

एनआईए ने जांच में जिन चार स्थानीय कश्मीरी आतंकियों के नाम लिये हैं वे मोहम्मद आशिक बाबा उर्फ मोहम्मद आशिक, सैयद मुनीर उल हुसैन कादरी, तारीक अहमद डार और अशरफ हमीद खांडे हैं। इन्होंने पाकिस्तान के तीन आतंकियों को हथियारों सहित सांबा के अंतराष्ट्रीय बार्डर से सरहद पार करवाई। इन्हें होटल जगदम्बा में ठहराया और फिर अपनी गाडिय़ों में नगरोटा में आतंकी हमले के छोड़ा। गौरतलब है कि 28 नवंबर 2016 को आर्मी कैंप की अफिसर में आतंकियों ने हमला किया।

एनआईए के अनुसार जैश के डिप्टी चीफ मौलाना असगर ने इन आतंकियों को टे्रन किया था और हथियार मुहैया करवाए थे। उसने कश्मीर के लांच कमांडर को हिदायत दी थी कि वह कश्मीर के स्थानीय आतंकियों को वो सब जरूरी चीजें मुहैया करवाए ताकि नगरोटा हमले को अंजाम दिया जा सके।